उनियारा में अज्ञात चोरों ने एक दुकान से लाखों के मोबाईल व पतंजलि सामान सहित नकदी पर किया हाथ साफ

- शहर में बीते 1 सप्ताह में दूसरी चोरी
- दुकान के बाहर मिले लोहे के सरिये
- शहर व आसपास के लोगों में चोरियों पर अंकुश नही लगने से पुलिस के प्रति रोष व्याप्त

 
पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मौका मुआयना

टोंक/उनियारा, (शिवराज मीना/मुजम्मिल सारण)। जिले के उनियारा शहर में बीती बुधवार की रात्रि को अज्ञात चोर कस्बे के राजकुमारों की बारी वार्ड नम्बर 11 में एक मोबाईल व किराना-जनरल स्टोर की दुकान का ताला तोड़कर दुकान से मोबाईल व पतंजलि सहित अन्य कंपनी के सामान व गल्ले में रखी 900 की राशि भी चोरी कर ले गए।

जानकारी के अनुसार दुकान मालिक अरुण कुमार प्रजापत ने बताया कि बुधवार की शाम को वह अपना प्रतिष्ठान राधा रानी एसोसिएट को बंद करके घर चला गया। जब गुरुवार सुबह अपने प्रतिष्ठान पर आया तो गेट का ताला टूटा हुआ मिला व पास में ही दो लोहे की सरिये पड़े मिले तथा अंदर दुकान में सामान चेक किया तो करीबन 1 लाख 25 हजार के मोबाईल फोन गायब मिले, वहीं 1 लाख 20 हजार के पतंजलि कंपनी के प्रोडक्ट सहित अन्य कंपनी के सामान गायब मिले तथा दुकान के गल्ले में रखी करीब 900 की राशि भी गायब मिली, जिन्हें अज्ञात चोर चोरी करके ले गए।

पीड़ित दुकानदार ने बताया कि उनियारा थाना पुलिस को सूचना करने के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मौका मुआयना कर परिवाद प्राप्त कर मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं जानकारी के अनुसार उनियारा शहर में लगातार बीते एक सप्ताह में यह दूसरी चोरी की घटना है। ऐसे में उनियारा शहर सहित क्षेत्र में चोरियों का ग्राफ दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है। इससे पहले भी 3 अक्टूबर को उनियारा निवासी राजेश पुत्र श्रीनारायण गंगवारिया के सूने मकान में अज्ञात चोरों ने ताला तोड़ चांदी के आभूषण सहित अन्य सामान चुरा कर ले गए।

वहीं उनियारा उपखण्ड क्षेत्र में बढ़ रहे नशे के कारोबार, युवाओं में बढ़ती नशे की लत बढ रही है। जिससे क्षेत्र में नशे के शौकीन युवाओं के खातिर ही चोरियों भी बढ़ रही है। कुछ दिन पहले भी एक वीडियो में देखा गया कि नशे से जुड़े कुछ लोग एक दुकान से दिनदहाडे ही सामान उठाकर रफू चक्कर हो गए। लेकिन क्षेत्र के कुछ युवाओं व लोगों में बढ़ती नशे की लत व चोरियों पर अंकुश नहीं लगने से क्षेत्र में लगातार चोरियां बढती ही जा रही है। वहीं देखा जाए तो देर रात के समय भी हाईवे स्थित होटलों और ढाबों पर टोंक सहित सवाई माधोपुर, बूंदी व कोटा जिले के नम्बर की बाईक आदि अन्य गाड़ियां संदिग्ध नजर आती है। जिनमें बाईक सवार ओवरलोडिंग युवा भी खुलेआम संदिग्ध तरीके से देर रात तक खुलेआम घूमते देखे जा सकते हैं, जिनके सीसीटीवी फुटेज हाईवे स्थित होटलों, ढाबों, दुकानों, पेट्रोल पम्प आदि के लगे केमरों में फुटेज आसानी से देखे जा सकते हैं। ऐसे में पुलिस गस्त की पोल भी खुलती नजर आ रही है तथा क्षेत्र के लोगों में भी बढ़ती चोरियों से क्षेत्र की पुलिस के प्रति गहरा रोष बना हुआ है।