अपहरण की सूचना पर नाकाबंदी में पुलिसकर्मियों को कन्टेनर ने कुचला, महिला कांस्टेबल सहित दो की मौत,एक घायल

 
दो पुलिसकर्मियों की मौत

टोंक,(शिवराज मीना)। जिला मुख्यालय के सदर पुलिस थाना क्षेत्र में जयपुर-कोटा नेशनल हाईवे पर बीती शुक्रवार देर रात किसी के अपहरण की मिली सूचना मिलने पर नाकाबंदी कर रहे पुलिसकर्मियोंं को तेज रफ्तार कंटेनर ने टक्कर मार दी। जिसमें एक महिला कांस्टेबल की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरे कांस्टेबल ने उपचार के लिये जयपुर एसएमएस अस्पताल ले जाते समय रास्ते में दम तोड दिया। वहींं कोटा पुलिस में तैनात एक कांस्टेबल भी इस घटना में गम्भीर रूप से घायल हो गया, जिसे उपचार के लिए जयपुर में भर्ती करवाया गया है। इस हादसे के बाद टोंक जिला पुलिस महकमे में शोक की लहर दौड गई।

घटना की सूचना मिलते ही जिला पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश, एएसपी सुभाषचन्द्र मिश्रा, डीएसपी चंद्रसिंह रावत आदि ने रात को ही घटनास्थल का जायजा लेकर पूरे मामलात की जानकारी हासिल की। डीएसपी रावत ने बताया कि हादसे में कडीला निवासी महिला कॉन्स्टेबल सुमन चौधरी (35) पत्नी तुलसीराम चौधरी एवं ग्राम मौजा पराणा निवासी कॉन्स्टेबल बिन्टू बाज्या (27) पुत्र शिवजीलाल चौधरी की मौत हुई है। जबकि कार में सवार घायल कॉन्स्टेबल जाकिर (30) निवासी अनंतपुरा कोटा का जयपुर के एसएमएस अस्पताल में इलाज चल रहा है।

उन्होंंने बताया कि रात करीब 10 बजे पुलिस कंट्रोल रूम से सूचना मिली कि जयपुर से एक व्यक्ति का अपहरण कर टोंक की ओर ले जाया जा रहा है। सूचना पर सदर थाना पुलिस ने थाने के बाहर जयपुर-कोटा नेशनल हाईवे पर नाकाबंदी लगाई। नाकाबंदी के दौरान देर रात करीब 11.45 बजे करीब जयपुर से कोटा की ओर जा रही कार जिसमेे दो जने सवार थे को चेकिंग के लिए रुकवाया तो ड्राईवर नाकाबंदी तोडक़र कार भगा ले गया। नाकाबंदी तोडक़र भागने पर पुलिस टीम ने संदिग्ध मानकर कार का पीछाकर करीब डेढ़ किलोमीटर दूर बमोर पुलिया के पास जीप आगे लगाकर कार को रोका गया। कार में सवार युवक ने खुद को अनंतपुरा कोटा में पुलिस कॉन्स्टेबल होना बताया। आईडी कार्ड दिखाने के बाद भी शक के आधार पर पुलिस ने उसे कार की डिक्की खोलने के लिए कहा।

इस दौरान पुलिसकर्मी कार की डिक्की की तलाशी ले रहे थे कि जयपुर की ओर से आए तेज रफ्तार कंनेटर उन्हे टक्कर मारता हुआ निकल गया। जिससे महिला कॉन्स्टेबल सुमन चौधरी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि कॉन्स्टेबल बिन्टु बाज्या चौधरी व जाकिर गम्भीर रूप से घायल हो गए। टक्कर इतनी जोरदार थी कि महिला कांस्टेबल का शव पुरी तरह कुचल गया था। हादसे के बाद वहां मौजूद अन्य पुलिसकर्मियों ने घायल दोनों कॉन्स्टेबल को तुरन्त ईलाज के लिए जिला सआदत अस्पताल पहुंचाया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टर्स ने हालत गंभीर देखते हुए दोनों को जयपुर रेफर कर दिया।

जहां रास्ते में ही कॉन्स्टेबल बिन्टू चौधरी ने भी दम तोड़ दिया। पुलिस ने बताया कि सुमन चौधरी के ग्राम कडीला एवं बिन्टू चौधरी के ग्राम पराणा में पूरे पुलिस सम्मान के साथ अंंतिम संस्कार किया गया है। वहींं टक्कर मारने वाले कंटेनर को दुर्घटना के करीब 2 घंटे बाद उनियारा पुलिस ने नाकाबंदी में पकडकर कंटेनर चालक रामेश्वर निवासी राजगढ़ मध्यप्रदेश को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस मामले की गहनता से जांच कर रही है।