समाज में बढ़ते अपराध पर अंकुश लगाने के लिए राजस्थान पुलिस हमेशा कटिबद्ध :- एडीजी क्राइम, रविप्रकाश मेहरडा

- आवाज दो अभियान के स्पीक-अप कार्यक्रम की जानकारी दी 
 
आवाज दो अभियान के स्पीक-अप कार्यक्रम

टोंक,(शिवराज मीना)। राजस्थान पुलिस के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (अपराध) रविप्रकाश मेहरड़ा ने गुरुवार को टोंक जिला मुख्यालय के कृषि ऑडिटोरियम टोंक में आयोजित स्पीक अप आवाज दो कार्यक्रम में महिलाओं और बालिकाओं को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए कहा कि समाज में बढ़ते अपराध पर अंकुश लगाने के लिए राजस्थान पुलिस हमेशा कटिबद्ध है।

ADG Crime, Raviprakash Mehrda

साथ ही कहा कि खासतौर पर महिलाओं और छोटी बच्चियों के खिलाफ दुष्कर्म सहित अन्य आपराधिक घटनाओं के प्रति पुलिस ज्यादा सख्ती से काम करते हुए अपराधों पर अंकुश लगाकर कार्यवाही कर रही है। उन्होंने राजस्थान में बढ़ते अपराध के आंकड़ों पर कहा कि राजस्थान पुलिस अधिक से अधिक मामलों में सुनवाई कर होने वाले अपराध को रजिस्टर कर रही है। यही कारण है कि अपराध की संख्या बढ़ी है अगर कोई एफआईआर दर्ज नहीं होगी तो सामने वाले को न्याय कैसे मिलेगा, इसलिए अपराध के आंकड़े बढ़ना अपराध बढ़ना नहीं है।

समाज में बढ़ते अपराध पर अंकुश लगाने के लिए राजस्थान पुलिस हमेशा कटिबद्ध

इसके अलावा एडीजी (क्राईम) ने कहा कि स्पीक अप अभियान के तहत मोबाइल ऐप के माध्यम से कोई भी पीड़ित अपनी समस्या को स्वयं या अपने परिजनों के माध्यम से पुलिस को सूचित कर सकता है ताकि समय रहते उसकी मदद हो सके। एडीजी ने कहा कि पिछले समय में राजस्थान का स्तर अजमेर रेंज में बालिकाओं के साथ होने वाले अपराधों को पोक्सो एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर आरोपियों को उनके अंजाम तक पहुंचाया है। वहीं अपराध के मुकाबले टोंक में अपराधों में आई गिरावट पर उन्होंने टोंक पुलिस की पीठ थपथपाते हुए कहा कि पुलिस का इकबाल बुलंद कर अपराधियों में खौफ पैदा करना ही पुलिस का मुख्य ध्येय है और टोंक पुलिस इसे बखूबी से अंजाम दिया है। समारोह में आईजी अजमेर एस. सेंगाथिर ने अजमेर रेंज में चलाए जा रहे आवाज दो अभियान के स्पीक अप ऐप के बारे में जानकारी देते हुए अधिक से अधिक इसका प्रचार-प्रसार करने पर जोर दिया।

वहीं राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय कोहना कि प्रधानाचार्य कृष्णा चौधरी ने आवाज दो अभियान के स्पीक अप ऐप की तारीफ करते हुए कहा कि हम सब इस ऐप के माध्यम से अपनी आवाज़ उठाएं, पर हमारी आवाज के साथ आप भी साथ देंगे ऐसी हम अपेक्षा करते हैं। कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय कवि प्रदीप पंवार ने किया। कार्यक्रम में जिला एवं सेशन न्यायाधीश अजय कुमार शर्मा, अपर जिला न्यायाधीश डॉ, रूबीना परवीन अंसारी, जिला पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश, उपखंड अधिकारी टोंक नित्या के, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक टोंक सुभाष चंद्र मिश्रा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मालपुरा राकेश कुमार बैरवा पुलिस उपाधीक्षक टोंक चंद्र सिंह रावत, निवाई वृताधिकारी बृजेंद्र सिंह भाटी सहित समाजसेवी मोइनुद्दीन निजाम, शिक्षाविद बाबूलाल शर्मा, एडीईओ चौथमल चौधरी, सीताराम गुप्ता सहित कई पुलिस अधिकारी, बालिकाएं एवं महिलाएं मौजूद थी।