उनियारा पालिका EO का पद रिक्त होने से शिविरों में आमजन को नहीं मिल रहा लाभ -बढ रहा है भ्रष्टाचार

 
उनियारा पालिका अधिशासी अधिकारी का पद रिक्त

टोंक/उनियारा,(शिवराज मीना/मुजम्मिल सारण)। जिले के उनियारा नगरपालिका में अधिशाषी अधिकारी का पद कई महीनों से रिक्त होने के चलते इन दिनों चल रहा प्रशासन शहरों के संग अभियान गति नहीं पकड़ रहा है। इतना ही शहरवासियों की समस्याओं का समाधान भी समय पर नहीं हो पा रहा है। 

गौरतलब है कि उनियारा नगर पालिका में पिछले कई महीनों से अधिशासी अधिकारी का पद रिक्त पड़ा हुआ है, जिससे एक ओर लोगों को नगर पालिका से संबंधित कार्यों के लिए काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वर्तमान समय में देवली नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी सुरेश कुमार मीणा को नगरपालिका उनियारा का अतिरिक्त कार्यभार सौंप रखा है, जिससे अधिशाषी अधिकारी का अतिरिक्त चार्ज होने के कारण प्रशासन शहरों के संग अभियान गति नहीं ले पा रहा है और आमजन को परेशानी भी उत्पन्न हो रही हैं।

ऐसे में वर्तमान में उनियारा नगरपालिका उनियारा स्थाई रूप से अधिशासी अधिकारी नहीं होने से प्रशासन शहरों के संग अभियान सिर्फ कागजी ही साबित हो रहा है। वहीं अधिशासी अधिकारी के अभाव में लोगों की समस्याओं का समाधान भी समय पर नहीं मिल पा रहा है, जिसके चलते नगरपालिका क्षेत्र में अतिक्रमण व भ्रष्टाचार को बढ़ावा भी मिल रहा है। वहीं विकास कार्य भी बाधित हो रहे हैं। वहीं जानकारी के अनुसार नगरपालिका क्षेत्र में भ्रष्टाचार के कुछ मामले भी सामने आ रहे हैं।

शहर में अतिक्रमण से कई अवैध पक्के निर्माण होने के मामले भी सामने आ रहे हैं। वहीं कई अधूरे निर्माण कार्यों के विनिर्माण की राशि उठाने के मामले भी पूर्व में सामने आए थे। अधिशासी अधिकारी का पद रिक्त होने से पूर्व व वर्तमान नगर पालिकाध्यक्ष के कार्यकाल में हुए भ्रष्टाचार के मामले भी ठण्डे बस्ते में पड़े हुए हैं। जिससे नगर पालिका क्षेत्रवासियों को काफी परेशानी हो रही है।