रंगविलास गांव में स्कूल खेल मैदान के 20 साल पुराने अतिक्रमण पर चला बुलडोजर

 
20 साल पुराने अतिक्रमण पर चला बुलडोजर

टोंक/घाड/नगरफोर्ट,(शिवराज मीना/राजाराम लालावत)। जिले के दूनी तहसील क्षेत्र के ग्राम पंचायत चन्दवाड के रंगविलास गांव में राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय के खेल मैदान के लिये 2002 में खसरा नम्बर 288 पर 0.05 रकबा हैक्टेयर में भवन व खेल मैदान तथा खसरा नम्बर 298 पर  0.75 रकबा हैक्टेयर में कुल 0.80 हैक्टेयर भूमि आवंटित हुई थी। जिस पर करीब 20 वर्षाे से गांव के ही कुछ प्रभावशाली लोगों ने अतिक्रमण कर रखा था।

जिसको लेकर विद्यालय द्वारा भी कई बार ग्राम पंचायत व शिक्षा विभाग के अधिकारियों को अवगत कराने के बाद भी  अतिक्रमण नहीं हट पा रहा था।  जिस पर 11 अक्टूबर को चन्दवाड ग्राम पंचायत में आयोजित प्रशासन गांवों के संग अभियान में अतिक्रमण हटवाने को लेकर प्रधानाध्यापक ने प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया था, जिस पर अतिशीघ्र कार्रवाई करते हुये शिविर में ही अतिरिक्त जिला कलेक्टर शिप्रा जैन ने अतिक्रमण को हटाने के निर्देश ग्राम पंचायत को दिये गये। जिस पर ग्राम पंचायत ने भी एडीएम के निर्देशों का पालन करते हुये शीघ्र दो जेसीबी द्वारा लगभग 4 बीघा जमीन से 20 वर्ष पुराने अतिक्रमण पर बुलडोजर चलाकर अतिक्रमण हटाने की शुरुआत की, जो खेल मैदान में घने बम्बूल व बड़ी-बड़ी झाड़ियां होने से तीन दिन में बुधवार को खेल मैदान अतिक्रमण मुक्त हुआ।

अतिक्रमण हटाते वक़्त पंचायत प्रशासन, एसएमसी सदस्य, स्कूल स्टाफ व ग्रामीण आदि मौजूद रहे। अतिक्रमण हटाने को लेकर हुए विरोध पर बड़ी मुश्किल से ग्राम पंचायत व प्रशासन ने लोगों को समझा बुझाकर अतिक्रमण हटाया गया तथा खाई खोदकर डोल बन्दी करवाई गई। स्कूल के प्रधानाध्यापक मदनलाल मीणा ने बताया कि 20 साल पुराना अतिक्रमण हटाने से खेल मैदान के जल्द ही चारदीवारी का निर्माण करवाया जायेगा, जिससे बच्चों को खेल कूद सम्बन्धी गतिविधियां भी अब यहाँ होने लगेगी। ग्रामीण व अभिभावकों ने भी बताया कि अब बच्चों को खेल जैसी समस्याओं से निजात मिलेगी। बच्चे आसानी से अब खेल मैदान पर क्रिकेट, कबड्डी, बॉलीबॉल, खो-खो जैसी अन्य गतिविधियां यहाँ कर सकेंगे। जिससे खेलने के लिये बाहर या दूर जाना पड़ता था अब उससे भी निजात मिलेगी। इस दौरान नेवाराम गुर्जर, धन्नालाल गुर्जर, शोजीलाल बैरवा, वार्ड पंच शिवराज बैरवा, रामलाल गुर्जर, मुकेश मीणा, महावीर गुर्जर, गोपाल बैरवा, ग्राम विकास अधिकारी रमेश चन्द मीणा, कनिष्ठ लिपिक बन्ना लाल बैरवा, समाज सेवी हेमराज मीणा आदि मौके पर उपस्थित रहे।