मानव तस्करी विरोधी यूनिट एवं गुमशुदा प्रकोष्ठ टोंक द्वारा 2 बाल श्रमिकों को कराया मुक्त

 
मानव तस्करी विरोधी यूनिट

टोंक, (शिवराज मीना) । मानव तस्करी विरोधी यूनिट एवं गुमशुदा प्रकोष्ठ टोंक द्वारा बुधवार को चाईल्ड लाईन टोंक की सूचना पर मालपुरा तहसील क्षेत्र के केरिया से दो बाल श्रमिकों को मुक्त कराया गया है।
मानव तस्करी विरोधी यूनिट एवं गुमशुदा प्रकोष्ठ टोंक के प्रभारी पुलिस निरीक्षक बृजमोहन देवराज के निर्देशन पर हैड कांस्टेबल भरत कुमार शर्मा, राम सहाय गुर्जर, रमेश चावला, कांस्टेबल धरम देव, महिला कांस्टेबल देविका, कांस्टेबल वाहन चालक हजारीलाल एवं चाईल्ड लाईन टोंक की टीम के निसार अहमद, राहुल, साजिया और लेबर निरीक्षक रेणु परीडवाल टोंक के हमरा जाकर मालपुरा उपखण्ड क्षेत्र के ग्राम केरिया से मध्यप्रदेश श्योपुर के दो बाल श्रमिक उम्र करीब 14 साल को मुक्त कराया गया है, जिन्हें बाल कल्याण समिति टोंक के समक्ष पेश किया है।

नियोक्ता जयराम जाट और कृष्णा जाट के खिलाफ थाना पचेवर मालपुरा जिला टोंक में मुक़दमा दर्ज करवाया गया है। वहीं मानव तस्करी विरोधी यूनिट प्रभारी बृजमोहन देवराज ने बताया कि आरोपी नियोक्ता उक्त दोनों बालकों को 50 हजार में 10 माह की मजदूरी  तय करके 3 माह से खेतों पर बंधुआ मजदूर के रूप में काम करवा रहे थे। वहीं पचेवर थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर मानव तस्करी विरोधी यूनिट एवं गुमशुदा प्रकोष्ठ टोंक द्वारा मामलें में अनुसंधान शुरू कर दिया है।