टोंक: कुआं ढहने से मलबे में दबें मजदूर की मौत, 4 घंटे चलें रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद शव निकला बाहर

 
टोंक: कुआं ढहने से मलबे में दबा एक मजदूर, बाहर निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

 टोंक, (शिवराज मीना)। जिले के घाड़ थाना इलाके के देवपुरा गांव में कुएं से मिट्टी निकालते समय कुएं में काम कर रहा एक मजदूर मलबे में दब गया। कुंए की मिट्टी भरभरा कर गिरने से हादसा हो गया। कुआं मालिक ने हादसे की पुलिस को सूचना दी। सूचना पाकर घाड़ पुलिस और देवली एसडीएम, डीएसपी मौके पर पहुंचे और तीन जेसीबी मशीन की मदद से कुएं के चारों ओर खुदाई कर मजदूर को निकालने का कार्य शुरू करवाया गया। मलबे में दबें मजदूर को बाहर निकालने के लिए 4 घंटे चलें रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद शव बाहर निकाला गया।

देवली एसडीएम भारत भूषण गोयल ने बताया कि देवपुरा निवासी रतनलाल पुत्र रामकरण मीणा के कुएं की सफाई कराने के लिए आमली देवलिया निवासी शिवराज (50) पुत्र राधाकिशन मीणा को बुलाया था। कुएं से पानी बाहर निकालने के बाद दोपहर 3 बजे मजदूर शिवराज रस्सी के सहारे कुएं में उतरा। करीब 10-15 मिनट बाद ही कुआं भरभरा कर ढह गया, जिससे शिवराज मलबे में दब गया। यह देख वहां मौजूद कुआं मालिक रतनलाल के घबरा गया। उसने व उसके बेटे ने पुलिस को इसकी सूचना दी।

सूचना पर घाड थाना प्रभारी नाहर सिंह मय जाब्ता व जेसीबी मशीन लेकर पहुंचे और बचाव कार्य में जुट गए। इसके बाद देवली एसडीएम भारत भूषण गोयल, डीएसपी सुरेश कुमार मेघवाल भी मौके पर पहुंचे और फिर 2 जेसीबी और मंगवायी गई। लेकिन 3 घंटे बाद भी मजदूर नहीं निकल पाया। वहीं घटना की जानकारी लगने के बाद बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ मौके पर जमा हो गई। प्रशासन की और से बचाव राहत कार्य तेजी से किया । मलबे में दबें मजदूर को बाहर निकालने के लिए 4 घंटे चलें रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद शव बाहर निकाला गया।