उनियारा थाने के सामने देहलवाल मंदिर के पास अज्ञात चोरों ने मकान में घुसकर जेवरात सहित नकदी पर किया हाथ साफ

- उनियारा उपखण्ड क्षेत्र में चोरी की घटनाओं पर नहीं है कोई अंकुश,
- पुलिस सुस्त व चोर मस्त वाली कहावत हो रही चरितार्थ, पुलिस की रात्रि गश्त पर उठते सवाल 
 
Unknown thieves entered the house near Dehalwal temple in front of Uniara police station and cleaned their hands on cash including jewelery

टोंक/उनियारा,(शिवराज मीना/मुजम्मिल सारण)। जिले के उनियारा उपखण्ड क्षेत्र में इन दिनों बढती चोरियों की घटनाओं से पीडितों सहित आमजन काफी परेशान है। वहीं पूर्व में हुई अधिकांश चोरियों का खुलासा नहीं होने से क्षेत्र में दिनोंदिन चोरों के हौसले लगातार बुलंद हैं, क्षेत्र में आए दिन अलग-अलग तरीके से चोरों द्वारा चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। जिसके चलते क्षेत्र के आमजनों में पुलिस प्रशासन के प्रति गहरा रोष व्याप्त है। क्षेत्र में बढ़ती चोरी की घटनाओं के चलते हुए पुलिस सुस्त व चोर मस्त वाली कहावत चरितार्थ हो रही है। ऐसा ही एक मामला उनियारा में पुलिस थाना के सामने देहलवाल मंदिर के पास एक मकान में अज्ञात चोरों द्वारा सोने-चांदी के आभूषणों सहित नकदी पार कर ले जाने का सामने आया है।

उनियारा थाना प्रभारी पूरणमल मीणा पुलिस निरीक्षक ने जानकारी में बताया कि पीड़ित मकान मालिक बुद्धिप्रकाश पुत्र सुवालाल धाकड़ निवासी उनियारा है। प्रार्थी का मकान उनियारा कस्बा में पुलिस थाने के सामने देहलवाल मंदिर के समीप है। प्रार्थी द्वारा पुलिस थाना उनियारा में दी गई रिपोर्ट में बताया कि प्रार्थी अपनी पत्नी को परीक्षा की तैयारी कराने हेतु नैनवां (बून्दी) रह रहा था। पीछे घर पर मां व दो भाई रहते हैं।

घटना 20 जुलाई 2022 की रात्रि की बताई गई है, जिसके परिवाद में बताया कि रात्रि के समय प्रार्थी की मां व भाई मकान के बाहर चद्दर के नीचे सो रहे थे। इसी दौरान बुधवार देर मध्य रात्रि को अज्ञात चोर प्रार्थी के मकान के अंदर घुसे और कमरे की कुंदी खोलकर अंदर रखी अलमारी में से 2 दिन पूर्व किसी को देने के लिए उधार लाए ₹100000 की नकदी सहित एक हार सोने का व कान की झुमकीयां वजन 3 तोला यह सभी अज्ञात चोर चुरा कर ले गए तथा अलमारी पर रखी अटैची जिसमें कपड़े रखे थे उन्हें भी उठाकर बाहर ले आए और तलाशी लेकर देहलवाल मन्दिर के बाहर छोड़ गए।

वहीं पूरे कमरे का सामान तलाशी में अज्ञात चोरों द्वारा बिखेर दिया गया। बाद में गुरूवार की सुबह देहलवाल मंदिर की सेवा करने आए पुजारी ने अटैची के कपड़े बिखरे देख मकान मालिक के परिवार को सूचना देने के बाद प्रार्थी के बड़े भाई ने प्रार्थी को सूचना देकर नैनवां से बुलाया। जिसके संबंध में पुलिस थाना उनियारा में रिपोर्ट पेश की गई,जिसकी रिपोर्ट पर अज्ञात चोर के विरूद्ध अपराध धारा 457 व 380 आईपीसी के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। प्रकरण की जांच तफ्तीश शंकरलाल चौधरी हैड कॉन्स्टेबल 214 थाना उनियारा जिला टोंक द्वारा की जा रही है।