टोंक : पैर फिसलने से एनीकट के गहरे पानी में डूबे दो बालको की मौत-तीसरे का उपचार जारी

 
Tonk: Death of two children drowned in deep water of Anicut due to slipping of feet - third treatment continues

टोंक/निवाई, (शिवराज मीना/विकास सैन)। जिले के निवाई वनस्थली क्षेत्र के वनस्थली जौधपुरिया देवधाम मार्ग के पास बने एनिकट में डूबने से 14 वर्षीय दो बच्चों की मृत्यु (Two 14-year-old children died due to drowning in Anicut) हो गई तथा तीसरे बच्चे को डूबने पहले बचा लिया गया। दो बच्चों के डूबने से जमात में कोहराम मच गया। 

निवाई थानाधिकारी अजय कुमार ने बताया कि शनिवार दोपहर करीब तीन बजे तीन दोस्त अमान, पृथ्वीराज और विकास वनस्थली जौधपुरिया मार्ग पर स्थित एनिकट में नहाने गए थे। नहाते समय पैर फिसलने से तीनों गहरे पानी में चले गए। तीनों को तैरना नहीं आने से पानी में डूब गए। पानी में छटपटा रहे विकास को एक व्यक्ति ने देख लिया। वह अपने घर से पानी भरने का पाइप लेकर एनिकट की ओर दौडा। एनिकट में डूब रहे विकास को आवाज देकर पाइप पकडने को कहा। डूबते हुए विकास ने काफी मशक्कत करते हुए पाइप को पकड़ लिया। उसके बाद चौथमल ने पाइप को खींचते हुए उसे पानी से बाहर निकाल लिया।

 इस दौरान आसपास के लोग एकत्रित हो गए। विकास को तुंरत अस्पताल ले गए तथा पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पुलिस उपाधीक्षक रूद्रप्रकाश शर्मा, निवाई तहसीलदार प्रांजल कंवर, व थानाधिकारी अजय कुमार पुलिस जाप्ते के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए। थानाधिकारी ने बताया कि पानी डूबे दोनों बच्चों को निकालने के लिए निवाई थाने में कार्यरत कांस्टेबल पराग, धर्मराज, अभिषेक व श्योराम तत्काल एनिकट में कूद गए। और गहरे पानी में दोनों बच्चों को ढूंढते रहे। करीब एक घंटे तक लगातार मशक्कत के बाद जवानों ने पानी में डूबे दोनों को बाहर निकाल लिया, लेकिन तब तक उनकी मृत्यु हो चुकी थी। पुलिस ने दोनों के शवों को लेकर सीएचसी निवाई लेकर पहुंची। बच्चों के पानी में डूबने खबर शहर में आग की तरह फेल गई। अस्पताल में लोगो की भारी भीड़ जमा हो गई। जहां उनका पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया। 

थानाधिकारी ने बताया कि एनीकट में डूबने से अमान पुत्र जफर एवं पृथ्वीराज सिंह पुत्र हनुमान सिंह निवासी पानी की टंकी के पास जमात निवाई की मृत्यु हो गई तथा विकास पुत्र प्रदीप निवासी जमात का सीएचसी में उपचार जारी है।