तेज रफ्तार ट्रेलर ने एनएच.148डी के पलाई टोल प्लाजा बूथ को किया चकनाचूर-लाखों का हुआ नुकसान

- उनियारा पुलिस की सूचना और टोल मैनेजर की सूझबूझ से जनहानि का बड़ा हादसा टला
- सवाईमाधोपुर से पलाई के बीच 2 थानों की नाकाबंदी तोड ट्रेलर चालक ने टोल प्लाजा पर किया हादसा 
- टोल मैनेजर ने ट्रैलर चालक के खिलाफ उनियारा थाना में कराया मामला दर्ज, पुलिस जुटी जांच में 
 
The speeding trailer shattered the Palai toll plaza booth of NH.148D - lakhs were damaged

टोंक/उनियारा, (शिवराज मीना/मुजम्मिल सारण)। जिले के उनियारा थानान्तर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग 148डी गुलाबपुरा-उनियारा हाईवे स्थित पलाई टोल प्लाजा (Palai Toll Plaza on National Highway 148D Gulabpura-Uniyara Highway) पर रविवार-सोमवार मध्य रात्रि को सवाईमाधोपुर से अलीगढ़ होकर उनियारा की तरफ से एक तेज रफ्तार बेकाबू ट्रेलर ने पुलिस नाकाबंदी तोडते हुए (High speed uncontrollable trailer breaking police blockade) टोल प्लाजा के एक बूथ के जोरदार टक्कर मारकर पूर्ण रूप से चकनाचूर कर दिया (A booth in the toll plaza was completely shattered after hitting it hard.) । जिसके चलते हुए पलाई टोल प्लाजा पर कार्यरत कर्मचारियों में अचानक से हड़कम्प मच गया तथा ईधर-उधर भागकर अपनी जान बचाई। वहीं घटना से 3 मिनट पहले उनियारा पुलिस की सूचना पर टोल मैनेजर की सावधानी से बड़ा हादसा होने से टल गया। इसके कारण बड़ी जनहानि होने से बच गई। लेकिन ट्रैलर की टक्कर से ध्वस्त हुए टोल बूथ की मशीनरी चकनाचूर होने से लगभग तीन लाख रूपए का नुकसान हुआ है। 

इस घटनाक्रम को लेकर पलाई टोल प्लाजा मैनेजर दशरथ सिंह गुर्जर ने सोमवार को ट्रेलर चालक व मालिक के खिलाफ टोल कम्पनी को लाखों रूपयों का नुकसान पहुंचाने का मामला उनियारा थाना में दर्ज करवाया है। वहीं गौरतलब है कि पलाई टोल प्लाजा मैनेजर दशरथ सिंह गुर्जर की जानकारी अनुसार उनियारा थाना द्वारा रविवार-सोमवार मध्य रात्रि 12ः05 बजे सूचना मिली कि उनियारा की तरफ से एक तेज रफ्तार ट्रेलर आ रहा है। जिस पर मैनेजर ने अपनी सूझबूझ से कार्यरत कर्मचारियों को टोल बूथ से बाहर निकलवाया और ट्रैलर को रूकवाने का प्रयास किया।

लेकिन तेज रफ्तार ट्रेलर टोल‌ प्लाजा के बेरियर को तोड़ते हुए एक बूथ को चकनाचूर करके तेज रफ्तार से गुजर गया। जहाँ घटना के दौरान कर्मचारियों ने ईधर-उधर भागकर अपनी जान बचाई। इसी दौरान पीछे-पीछे उनियारा व अलीगढ़ थाने की पुलिस भी ट्रैलर का पीछा कर रही थी। इस दुर्घटना से टोल कम्पनी को लगभग तीन लाख रूपए का नुकसान हुआ है। इस मामले को लेकर उनियारा थाना पर टोल मैनेजर द्वारा ट्रैलर चालक के खिलाफ़ मामला दर्ज करा दिया गया है। मिली जानकारी के अनुसार ट्रेलर बूंदी जिले के तालाव गांव का बताया जा रहा है। जिसकी पुलिस द्वारा जांच की जा रही है।

यह बताया जा रहा है घटना का मामला 
सवाईमाधोपुर जिला पुलिस के रवांजना चौड थाना एएसआई जरदान खान से मिली जानकारी में बताया कि वे रविवार रात्रि को पुलिस जाप्ता के साथ बोरिफ-कुस्तला के समीप हाईवे पर गश्त कर रहे थे। इसी दौरान एक तेज रफ्तार ट्रेलर सवाईमाधोपुर की ओर से आ रहा था, जिसको रूकाने का प्रयास किया गया। लेकिन ट्रैलर चालक पुलिस को देखकर तेज रफ्तार से निकल गया। जो संदिग्ध प्रतित नजर आया। जिसकी सूचना कंट्रोल रूम टोंक को दी गई। कंट्रोल रूम से आई सूचना के आधार पर अलीगढ़ पुलिस ने पचाला चौकी व अलीगढ़ में हाईवे पर नाकाबंदी की। जिसको भी तोडकर ट्रैलर चालक उनियारा की ओर निकल गया। जिस पर अलीगढ़ थानाधिकारी नाहर सिंह ने कंट्रोल रूम टोंक तथा उनियारा पुलिस को सूचना दी। जिस पर दोनों थानों की पुलिस ने ट्रैलर का पीछा किया।

लेकिन तेज रफ्तार ट्रेलर उनियारा होकर नैनवां-गुलाबपुरा हाईवे के पलाई टोल प्लाजा के बेरियर तथा बूथ नम्बर 8 को चकनाचूर करते हुए निकल गया। टोल कर्मचारियों ने ईधर-उधर भागकर अपनी जान बचाई जिसको पकड़ने के लिए दोनों थानो की पुलिस ने काफी प्रयास किया। लेकिन वह पलाई के पास एक गौवंश को मारते हुए निकल गया तथा पुलिस पकड़ में नहीं आया। जहाँ टोल प्लाजा पर बडी जनहानि होने से टल गई। इस मामले में उनियारा पुलिस द्वारा अनुसंधान जारी है।

इनका कहना है 
उनियारा थाना प्रभारी पूरणमल मीणा का कहना है कि टोल मैनेजर के परिवाद पर उक्त घटनाक्रम का मामला दर्ज कर लिया गया है तथा पुलिस द्वारा गहनता से अनुसंधान जारी है तथा यथाशीघ्र ही ट्रेलर चालक व मालिक को गिरफ्तार कर ट्रेलर को जप्त कर नियमानुसार कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।