निवाई : केबिन के बाहर सो रहे अधेड़ को लुटेरों ने मारपीट कर किया गंभीर घायल, मृत समझ कर छोड़ भागे

 -घायल को चिंताजनक स्थिति में किया जयपुर रैफर, पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच किया मौका मुआयना
 
Niwai: The robbers beat up the middle-aged sleeping outside the cabin, seriously injured, left thinking dead

टोंक/निवाई, (शिवराज बारवाल/निर्भयराम मीना)। जिले में निवाई उपखण्ड के दत्तवास थाना क्षेत्र में मंगलवार की देर मध्य रात्रि दो बजे के करीब गांव टोरडी से नोहटा जाने वाले रास्ते पर स्थित शराब की केबिन के बाहर सो रहे अधेड़ (middle-aged sleeping outside the liquor cabin) को फिल्मी स्टाईल में लुट की नियत से आए लुटेरों एवं बदमाशों ने अधेड़ से जबरदस्ती करते हुए पैसे की मांग की। जब अधेड़ ने पैसा देने से मना कर दिया तो लुटेरों ने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी।

लुटेरों ने अधेड़ के साथ जबरदस्त मारपीट की, सोया हुआ अधेड़ लाठियों व डण्डों के  वार से गंभीर रूप से जख्मी हो बेहोश हो गया। अन्त में बदमाश अधेड़ को मृत समझ कर मौके से भाग निकले। रात्रि में अधेड़ के चिल्लाने की आवाज सुनकर पास के खेतों में किसान भागकर घटनास्थल पर आए और देखा तो लुटेरे मौके से फरार थे और अधेड़ गंभीर घायल अवस्था में खून से लथपथ पड़ा हुआ मिला। 

घटना की सूचना पर घायल अधेड़ के परिजनो ने मौके पर पहुंचकर निवाई सामुदायिक चिकित्सालय में उपचार के लिए लाए, जहां पर अधेड़ की हालत चिंताजनक होने के कारण चिकित्सकों ने जयपुर रैफर कर दिया। घटना की सूचना पर बुधवार सुबह निवाई पुलिस उपाधीक्षक संदीप सारस्वत व दत्तवास थाना पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर साक्ष्य जुटाए और आस-पास के लोगों से जानकारी ली। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार दत्तवास थाना क्षेत्र में मंगलवार की देर रात्रि करीबन दो-ढ़ाई बजे के करीब गांव टोरडी से नोहटा जाने वाले रास्तें पर स्थित शराब की केबिन के बाहर सो रहे अधेड़ कमल सिंह पुत्र रतन सिंह उम्र 55 निवासी गुगडोद थाना बौंली जिला सवाईमाधोपुर को फिल्मी स्टाईल में लूट की नियत से आए बदमाशों ने अधेड़ से जबरदस्ती करते हुए पैसें की मांग की। अधेड़ ने पैसा देने से मना करने के कारण लुटेरों ने मारपीट शुरू कर दी। लुटेरों ने अधैड़ के साथ तबतक मारपीट करते रहे जबतक वह लाठियों व डण्डों से वार से बेसुध हो गया। तब बदमाश अधेड़ को मृत समझ कर भाग निकले। 

वहीं गौरतलब है कि ग्रामीणों ने क्षैत्र में इस प्रकार की दिनों-दिन बढ़ती वारदातों को लेकर स्थानीय पुलिस व प्रशासन के प्रति गहरा आक्रोश व्यक्त करते हुए ग्रामीणों ने दत्तवास थाना पुलिस पर आरोप लगाया कि क्षैत्र में रात्रि के समय गस्त नहीं करने पर चोरी, लूट, मारपीट, मर्डर जैसी बड़ी घटनाओं को अपराधी अंजाम देते रहते हैं। दत्तवास थाना क्षैत्र में जगह-जगह पर शराब की अवैध दुकाने खुली हुई है। जिससें सारी रात शराब बिकती है। जिसके कारण आए दिन ऐसी घटनाएं क्षैत्र में होना आम बात हो गई है। ग्रामीणों ने दत्तवास थाना पुलिस पर भी शराब की अवैध दुकानों के संचालकों से मिलीभगत का आरोप लगाया है।