हनुतिया सरपंच हत्या प्रकरण में सांसद डॉ. किरोडीलाल ने हजारों लोगो के साथ किया प्रदर्शन, SP ने दिया 15 दिन में गिरफतारी का आश्वासन

 - मुझे टेडी उंगली से भी न्याय दिलाना आता है- डॉ. किरोडीलाल मीना

- 9 महीने बाद भी आरोपी गिरफ्तार नहीं होने से लोगो में आक्रोश 
 

 
MP Dr. Kirodi Lal demonstrated with thousands of people in Hanutia Sarpanch murder case, SP assured arrest in 15 days

टोंक/निवाई, (शिवराज मीना/निर्भयराम मीना) । जिले के निवाई उपखण्ड क्षेत्र की ग्राम पंचायत हनोतिया के पूर्व सरपंच हनुमान मीना को जहर देकर कि गई हत्या (Hanuman Meena, the former sarpanch of Hanotia, was murdered by poisoning) के मामले में करीब 9 महीने बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं (No arrest of accused even after 9 months) होने पर हत्यारों को शीघ्र गिरफ्तारी करने की मांग (demand for arrest) को लेकर भाजपा राज्यसभा सांसद डॉ० किरोड़ी लाल मीणा (BJP Rajya Sabha MP Dr. Kirori Lal Meena) ने बुधवार को जिला पुलिस अधीक्षक टोंक मनीष त्रिपाठी को सर्वसमाज के हजारों लोगों के साथ ज्ञापन दिया। जिस पर पुलिस अधीक्षक मनीष त्रिपाठी ने राज्यसभा सांसद सहित प्रतिनिधि मण्डल से 15 दिन में राजफाश करने का आश्वासन दिया है। 

MP Dr. Kirodi Lal demonstrated with thousands of people in Hanutia Sarpanch murder case, SP assured arrest in 15 days

इससे पूर्व निवाई के बरथल-पहाड़ी तिराहे पर हजारों लोगों के साथ डॉ० किरोडी लाल मीणा ने विशाल जनसभा कर आक्रोशित लोगों को शांति और कानून व्यवस्थाएं बनाएं रखने की अपील करते हुए संबोधित किया। उन्होंने कहा कि दिंवगत हनोतया सरपंच हनुमान मीना की मौत पर कौन जिम्मेदार हैं, ये पुलिस बताएं। चिकित्सकों की एफएसएल टीम ने जहर से मौत होना प्रमाणित कर दिया है। कुछ लोगों पर शक की सुई इंगित करते हुए पुलिस वृत्ताधिकारी निवाई रूद्रप्रकाश शर्मा को ज्ञापन दिया। कुछ नाम भी बताएं गए, लेकिन पुलिस की उदासीनता से परेशान लोगों ने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए सर्वप्रिय जननेता डॉ. किरोडी लाल मीणा से न्याय की उम्मीद करते हुए गुहार लगाई। 

डॉ. किरोड़ी लाल मीणा ने दूरभाष पर टोंक एसपी मनीष त्रिपाठी एवं निवाई पुलिस वृत्ताधिकारी रूद्रप्रकाश शर्मा से बात कर मामले को गम्भीरता से लेते हुए आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। लेकिन टोंक एसपी मनीष त्रिपाठी ने फिर से 15 दिन का समय लेकर न्याय की उम्मीद लेकर आएं हजारों लोगों के मंसूबों पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया। सरपंच हनुमान हनुतिया हत्या प्रकरण को लेकर युवा नेता नरेश मीना ने हजारों की भीड़ में पुलिस उपाधीक्षक रूद्रप्रकाश शर्मा पर कार्यवाही में उदासीनता के आरोप लगाए।

MP Dr. Kirodi Lal demonstrated with thousands of people in Hanutia Sarpanch murder case, SP assured arrest in 15 days

 मामले में पुलिस के विरूद्ध ज़बरदस्त प्रदर्शन
निवाई के बरथल-पहाड़ी गांव में महापंचायत के बाद एसपी ऑफिस पर राज्य सभा सांसद डॉ.किरोड़ी लाल मीणा के नेतृत्व में हुआ प्रदर्शन, डॉ. मीणा के साथ आये लोगों ने नारेबाज़ी के बीच लगभग डेढ़ घंटे एसपी ऑफिस परिसर में दिया धरना, एक माह में आरोपियों की पहचान व गिरफ्तारी नहीं होने पर पुनः बड़े धरने की दी चेतावनी, अक्टूबर 2021 में एक पार्टी के बाद हुई थी सरपंच की मौत, 6माह बाद आयी एफएसएल रिपोर्ट में ज़हर के मत की हुई पुष्टि। 

आत्मदाह की चेतावनी  
मृतक सरपंच की पत्नि ने भी कार्रवाही नही होने पर एक माह बाद एसपी ऑफिस में आत्मदाह की दी चेतावनी, एसपी मनीष त्रिपाठी को सोंपा गया ज्ञापन। इस दौरान निवाई विधायक प्रशांत बैरवा के विरूद्ध जमकर नारेबाज़ी नारेबाजी की गई। 

आरोपियों को बचाने के लगाए आरोप 
मामले में पुलिस के विरूद्ध पहाड़ी गांव में रखी गयी सर्व समाज की महापंचायत में जन आंदोलनों के लिये जाने वाले राज्यसभा सांसद डॉ. किरोडी मीणा ने पुलिस का बिना नाम लिए बिना निवाई विधायक प्रशांत बैरवा पर अपराधियों को बचाने व इस मामले को दबाने का आरोप लगाया। 

डेढ़ घण्टे किया एसपी कार्यालय का घेराव 
लगभग एक घण्टे से अधिक देर तक चली महापंचायत के बाद राज्य सभा सांसद डॉ. किरोड़ी लाल मीणा मृतक सरपंच हनुमान मीणा के परिजनों व अपने हजारों समर्थकों के साथ डॉ. किरोड़ी लिल मीणा ने यहां परिसर के भीतर जमकर नारेबाज़ी की व लगभग डेढ़ घटे तक उग्र नारेबाज़ी करते हुए पुलिस अधीक्षक चैंबर के बाहर धरना दे दिया।

इस अवसर पर श्रीराम महाराज, प्रधान रामवतार लांगड़ी, पूर्व प्रधान चंद्रकला-मांगीलाल गुर्जर, ढाणी जुगलपुरा सरपंच पति बाबूलाल मीना, रमाकांत शर्मा, पूर्व भाजपा शहर मण्डल रामवतार घांटी, टोंक से पूर्व विधायक अजीत सिंह मेहता सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस-भाजपा जनप्रतिनिधि, नेता और कार्यकर्ता एवं सर्वसमाज के लोग मौजूद थे।