बाल दिवस व हस्ताक्षर अभियान के साथ बाल अधिकार सप्ताह का किया शुभारंभ

 
Child Rights Week inaugurated with Children's Day and signature campaign

टोंक। शिव शिक्षा समिति रानोली (Shiv Education Committee Ranoli) द्वारा संचालित चाइल्डलाइन परियोजना व एमपावर के सहयोग से (Operated in collaboration with Childline Project and Mpower) ‘वह बदलाव का नेतृत्व करेगी‘ परियोजना, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण टोंक, बाल अधिकारिता विभाग व बाल कल्याण समिति के संयुक्त तत्वाधान में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कार्यालय से की गई। 

Child Rights Week inaugurated with Children's Day and signature campaign

चाइल्ड लाइन से दोस्ती सप्ताह की शुरुआत करते हुए बाल अधिकारिता विभाग के निदेशक नवल खान ने बताया कि यह सप्ताह 14 नवंबर से 20 नवंबर तक रहेगा। इस दौरान चाइल्डलाइन के सहयोग से ओपन हाउस, आउटरीच, रेस्क्यू व अन्य गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। जिला बाल संरक्षण अधिकारी नवल खान ने बच्चों को सुरक्षित रखने एवं चाइल्डलाइन पर मुसीबत में फंसे बच्चों की मदद के लिए कॉल करने के लिए हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की। बाल कल्याण समिति अध्यक्ष हेमराज चौधरी ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी प्रदान की। 

परियोजना अधिकारी पूनम जोनवाल ने बताया कि बाल अधिकार सप्ताह के दौरान विभिन्न स्कूलों एवं समुदाय के मध्य जागरूकता कार्यक्रमों के साथ जीवन कौशल व बाल संरक्षण मुद्दों पर क्षमतावर्धन कार्यशालाओं का आयोजन किया जाएगा। सोमवार को हार्डी कला उच्च माध्यमिक विद्यालय में बाल दिवस का आयोजन किया गया, जिसमें बालकों को सुरक्षित व असुरक्षित स्पर्श के बारे में जानकारी प्रदान करते हुए बाल गीतों व खेलों का आयोजन करवाया गया।

कार्यवाहक प्रधानाचार्य जितेंद्र बेरवा ने बच्चों को हर क्षेत्र में आगे बढ़ने व सुरक्षित रहने का संदेश दिया। कार्यक्रम के दौरान मानव तस्करी विरोधी पुलिस इकाई से ब्रजमोहन, देवराज पु.नि., हेड कांस्टेबल रामसहाय, बाल अधिकारिता विभाग से रामसहाय पारीक, सुरेश कुमार एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण से नबील खान, सरफराज, पवन शर्मा, नीतू सिंघल व चाइल्डलाइन टीम के सदस्य राहुल गजरा, निसार अहमद, साजिया परवीन, अमलेश मीणा उपस्थित रहे।