भ्रष्टाचार के विरूद्ध ACB ने उनियारा शहर में आमजन को किया जागरूक, रिश्वत मांगने पर पीडित बेहिचक करें शिकायत- एएसपी आर्य

 
ACB made the general public aware against corruption in Uniara city, victims should feel free to complain for asking for bribe - ASP Arya

टोंक/उनियारा,(शिवराज मीना/मुजम्मिल सारण) । भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) राजस्थान द्वारा चलाये जा रहे अभियान के तहत सोमवार देर शाम को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टोंक टीम (Anti Corruption Bureau Tonk Team) द्वारा उनियारा कस्बा के संत सुंदरदास धर्मशाला में आमजन व एसीबी आपके द्वार संवाद कार्यक्रम (ACB Aapke Dwar Dialogue Program) में सीएलजी सदस्यों, व्यापारियों, जनप्रतिनिधियों तथा आमजन को जागरूक कर कार्यशाला आयोजित की गई। 

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टोंक के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश आर्य ने बताया कि भ्रष्टाचार के विरूद्ध जागरूकता लाने के उद्देश्य से संत सुंदरदास धर्मशाला उनियारा में एसीबी आपके द्वार संवाद कार्यक्रम कार्यशाला में सीएलजी सदस्यों, व्यापारियों, जनप्रतिनिधीयों एवं आमजन को एसीबी में शिकायत करने की प्रक्रिया तथा कार्यवाही पद्धति हेतु सुलभ जानकारियां बताई गई। 

वहीं ACB एएसपी राजेश आर्य ने बताया कि एसीबी का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में भ्रष्टाचार को खत्म करना है। साथ ही इसके लिए आमजन को जागरूक करना जरूरी है, उन्होंने कहा कि कोई भी पीडित व्यक्ति घूसखोरी की सूचना बिना डरे ACB तक पहुंचा सकते हैं। उन्होने बताया कि भ्रष्टाचार के विरूद्ध आम नागरिक को जागरूक किए जाने के लिए प्रदेशभर में एक अभियान चलाकर भ्रष्टाचार के विरूद्ध कार्यवाही की जा रही है, ताकि कोई भी पीडित व जागरूक नागरिक घूसखोर की शिकायत ACB को दे सकें। एसीबी ASP आर्य ने बताया कि आय से अधिक संपत्ति रखने वाले सरकारी कर्मचारियों की शिकायत भी दी जा सकती हैं। इसके अलावा सरकारी योजनाओं के तहत करवाए जा रहे निर्माण कार्य एवं विकास कार्यों में भ्रष्टाचार की लिखित शिकायत भी दी जा सकती हैं, ऐसे में यह भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की ओर से लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य पर यह कार्यशाला आयोजित की गई है। 

एसीबी ASP राजेश आर्य ने कार्यशाला में मौजूद लोगों सहित व्यापारियों के सवालों पर प्रतिक्रिया में जानकारी देते हुए जवाब दिया। साथ ही भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो राजस्थान हेल्पलाइन नंबर 1064 व मोबाइल नंबर 94 1350 2834 पर शिकायत देने के बारे में बताया। वहीं बताया कि एसीबी टीम 3 तरीके से काम करती हैं, जो शिकायत के वेरिफिकेशन के बाद शुरू होती है। शिकायतकर्ता का नाम भी गोपनीय रखा जाता है। उन्होंने व्हाट्सएप तथा टोल फ्री नंबर पर भी शिकायत करने की बात कही है। ऐसा करने पर एसीबी परिवादी से संपर्क करेगी और शिकायत का सत्यापन होने पर पूर्ण राहत पहुंचाएगी। भ्रष्टाचार के विरूद्ध आम नागरिक को जागरूक करने की कार्यशाला में एसीबी टीम के स्टाफ गण, सीएलजी सदस्य, व्यापारी, जनप्रतिनिधी मीडिया कर्मी सहित आम नागरिक आदि मौजूद रहे।