राजस्थान में आज omicron के 52 नए केस, जयपुर में सबसे ज्यादा, 6 अन्य जिलों में भी मिले

 
राजस्थान में आज omicron के 52 नए केस

जयपुर। राजस्थान (Rajasthan) में शनिवार को कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॅान (omicron) के 52 नए मामले सामने आए है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक, सबसे ज्यादा मामले राजधानी जयपुर में पाये गये हैं। जयपुर में कुल 38 मामले सामने आये हैं। 52 संक्रमितों में से 9 विदेश यात्रा से लौटे हैं। कोरोना का नया वैरिएंट (new variant of corona) राजधानी जयपुर समेत 7 जिलों में फैल चुका है।

सभी संक्रमितों की कांटैक्ट ट्रैसिंग की जा रही है। साथ ही इन्हें डेडिक्रेटेड ओमिक्रॉन वार्ड में आइसोलेट किया जा रहा है। 4 व्यक्ति विदेशी यात्रियों के कांटैक्ट हैं, जबकि 12 व्यक्ति अन्य राज्यों से यात्रा करके आए हैं। दो पूर्व में पाए गए ओमिक्रॉन संक्रमितों के कांटैक्ट हैं। रिपोर्ट के मुताबिक 38, प्रतापगढ़, सिरोही, बीकानेर में 3-3, जोधपुर में 2, अजमेर एवं भीलवाड़ा में 1-1 नए रोगी मिलें हैं। राजस्थान में अब तक 121 व्यक्ति ओमिक्रॉन पॉजिटिव पाए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पूर्व में पाए गए ओमिक्रॉन संक्रमितों में से 61 रिकवर हो चुके हैं।

राजधानी जयपुर में 38 नए मामले सामने आने पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के हाथ-पैर फूल गए हैं। तमाम सख्ती के बावजूद जयपुर में ओमिक्रॉन के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। प्रदेश में जिस तेजी से कोरोना और ओमिक्रॉन के मामले बढ़ रहे हैं उसे देखकर लगता है कि राजस्थान में कोरोना की तीसरी लहर आ गई है। गहलोत सरकार ने बढ़ते आंकड़ों के मद्देनजर ही कोरोना की नई गाइडलाइंस जारी की थीं। लेकिन गाइडलाइंस की सख्ती से पालन नहीं होने के कारण केसों में बढ़ोतरी हो रही है।

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के जो आंकड़े आए हैं उसमें 4 व्यक्ति विदेशियों के कांटैक्ट हैं। वहीं सीएम गहलोत ने कोरोना के मामलों को लेकर शुक्रवार को अहम बैठक ली थी। कोविड समीक्षा बैठक में सीएम ने अधिकारियों को सख्त लहजे में चेताया कि किसी भी प्रकार की लापरवाही से जयपुर में मुंबई और दिल्ली जैसे हालात हो जाएंगे।