सुरक्षागार्डों ने मजदूरों को पैर बांधकर डंडे से पीटा, विधायक ने वीडियो ट्वीट कर की जांच की मांग

 
chabra news

 राजस्थान के बारां जिले में दो लोगों को पैर से बांधकर उल्टा लटका कर डंडों से पीटने का मामला सामने आया है। जिले के छबड़ा कस्बे के मोतीपुरा सुपर क्रिटिकल थर्मल पावर में मजदूरी करने आए दो लोगों को सुरक्षा गार्डों ने अधिकारीयों के कहने पर दो मजदूरों की बेरहरमी से पिटाई की। छबड़ा से बीजेपी विधायक प्रताप सिंह सिंघवी ने शनिवार रात घटना का वीडियो ट्वीट किया और जांच की मांग की।

थर्मल पावर के अधिकारियों ने अपनी गलती मानने के बजाए दोनों मजदूरों पर चोरी का आरोप लगाया है। इस पर विधायक सिंघवी ने काह कि शुक्रवार को सेवखेड़ी के जयनारायण लोधा और हनवतखेड़ापार के गिरीराज लोधा छबड़ा थर्मल में मजूदरी करने गए थे। थर्मल के अधिकारियों ने इन्हें बिना किसी वजह गार्डों से पिटवाया। गार्डों ने अधिकारियों की मौजूदगी में मजदूरों के कपड़े उतारकर उन्हें बेरहमी से पीटा। जिले में पहली बार मानवता को शर्मसार करने वाली घटना हुई है। घटना का वीडियो वायरल होने के बाद थर्मल पावर के अधिकारियों ने दोनों मजदूरों को पुलिस को सौंप दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर सुपर क्रिटिकल थर्मल पावर के चीफ इंजीनियर हिमांशु ने बताया कि वीडियो उनकी जानकारी में आया है। मामला 4 सितंबर को कॉल हैडलिंग के पास का है। संबंधिक लोगों से पूछताछ की जाएगी। उन्होंने बताया कि प्लांट की 14 किलोमीटर की बाउंड्री है। इसके आसपास छोटे-छोट गांव हैं।

प्लांट में पिछले 7 साल से हर महीने 8 से 10 चोरी की घटनाएं हो रही है। कुछ बदमाश बार-बार वारदात को अंजाम देने आते हैं। सुरक्षा के लिहाज से सिक्योरिटी गार्ड लगाए गए हैं। कई बार आपराधिक प्रवृति के लोग भागते समय पत्थर फेंकते हैं, जिससे कई गार्ड घायल हुए हैं।

छबड़ा डीएसपी ओमेंद्रसिंह शेखावत ने बताया कि सेवनखेड़ी निवासी जयनारायण और हनुवतखेड़ा निवासी गिर्राज ने रिपोर्ट देकर बताया कि वो रात को खेत के पास लभभबग तीन बजे कुत्तों को भगा रहे थे। तभी थर्मल प्लांट के अंदर से जीप मे बैठे एईएन कलाराम मीणा और ड्राइवर गोलू केवट ने आवाज देकर प्लांट में बुलाया। इसके बाद प्लांट में चोरी करने का आरोप लगाते हुए बॉर्ड होमगार्ड को बुलवाकर मारपीट की। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। मामले में आगे की जांच शुरू कर दी गई है।