कबड्डी के मैच के दौरान खिलाड़ी की मौत, डाम देने आया तो दूसरी टीम के खिलाड़ियों घेराबंदी में नीचे गिरा, फिर नहीं उठा

 
कबड्डी के मैदान में मैच के दौरान खिलाड़ी की मौत

टोंक। पीपलू थाना इलाके के नवरंगपुरा गांव में आयोजित कबड्डी प्रतियोगिता में बुधवार रात एक खिलाड़ी की मौत हो गई। डाम देने के दौरान दूसरी टीम के खिलाड़ियों ने उसे घेरकर दबोच लिया, इससे वह नीचे गिर गया। इस दौरान वह एक दो मिनट तक हिला तक नहीं। अंपायर ने उसे मैदान से बाहर निकलने के लिए कहा, लेकिन हिला भी नहीं। बाद में वहां मौजूद अन्य खिलाड़ियों और आयोजकों ने देखा तो मृत जैसा लगा। यह देख सबके हाथ पांव फूल गये और उसे नजदिकी डॉक्टर को दिखाया। डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

जानकारी के अनुसार नवरंगपुरा में ग्रामीण प्रतिभा को उभारने के लिए ग्रामीणों की पहल पर तीन दिवसीय रात्रिकालीन कबड्डी प्रतियोगिता आयोजित की थी। 1 नवंबर से शुरू हुई प्रतियोगिता में मैच रात 8 बजे से शुरू होते थे। बुधवार रात इस प्रतियोगिता में चाकसू व बोरखंडी कला की टीम का मैच था। इसमें रात करीब 10 बजे चाकसू की टीम की ओर से सवाई माधोपुर जिले के बोली निवासी दामोदर (21) पुत्र गंगराज गुर्जर डाम (रेड करने ) देने गया। इस दौरान उसे विपक्ष की टीम बोरखंडी कला के खिलाड़ियों ने घेर कर पकड़ लिया।

इस दौरान वह नीचे गिर गया। उसके बाद अंपायर के इशारे पर उसे आउट कर दिया तो विपक्षी टीम ने उसे छोड़ दिया, लेकिन वह उठा नहीं। करीब एक-दो मिनट बाद उसे वहां मौजूद अन्य खिलाड़ियों व आयोजकों ने उठाने की कोशिश की तो वह उठा नहीं। वह बेसुध होकर पड़ा मिला। यह देख आयोजकों ने मैच बंद कर दिया। बाद में उसे बेहोशी की हालत में पास के डॉक्टर को दिखाया। जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। बाद में सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पीपलू अस्पताल ले गई। जहां गुरुवार दोपहर को मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने बाद उसकी मौत के वास्तविक कारण सामने आएंगे।