6 सगी बहनों की एक साथ शादी बनी चर्चा का विषय, सभी ने एक साथ लिए फेरे, स्कूल बस ड्राइवर ने 6 बेटियों की एक साथ की विदाई

 
6 सगी बहनों की एक साथ शादी बनी चर्चा का विषय

झुंझुनूं । जिले के खेतड़ी के पास चिरानी गांव में बुधवार को छह बहनों की एक साथ हुई शादी पूरे इलाके में चर्चा का विषय बन गई। शादी से पहले 6 बहनों को घोड़ी पर बैठाकर पूरे गांव में बिंदौरी निकाली गई। लड़कियों के पिता स्कूल बस चलाते हैं। जिन्होंने शादी का खर्चा बचाने का संदेश देते हुए 6 बेटियों की शादी एक साथ की।

इन बेटियों से शादी करने के लिए तीन गांवों से बारात भी आई। जिनकी आवभगत में ना केवल यह परिवार, बल्कि पूरा गांव ही लग गया। सभी बहनों ने एक साथ फेरे लिए। छह सगी बहनों की शादी एक साथ देखकर सभी को अचंभा भी हुआ तो लोग खुश भी हुए। वहीं, जब विदाई हुई तो परिवार के लोग भावुक भी हो गए। क्योंकि पिता का आंगन छह बेटियों की ससुराल विदाई के बाद एक साथ ही सूना हो गया।

इन बेटियों की शादी के फेरों से पहले जब गांव में बिंदौरी निकाली गई तो सभी ने एक ही रंग की ड्रेस और लड़कों की तरह सतरंगी साफे बांधे। बेटियों की पहले तो पूरे गांव में बिंदौरी निकाली गई। इसके बाद इन्होंने डीजे पर परिवार के साथ जमकर ठुमके लगाए। बहनों ने काले चश्मे में गांव की गलियों में भी मॉर्डन स्टाइल में डांस किया। अपनी शादी को जमकर एंजॉय किया। 

भाई विकास गुर्जर ने बताया कि उनके पिता रोहिताश्व स्कूल बस चलाते है। लेकिन उन्होंने बेटियों को पढ़ाने में कभी कोई कमी नहीं छोड़ी। उसकी बहन मीना और सीमा ने एमए बीएड कर रखा है। वहीं, अंजू और निक्की एमएम पास है। वहीं योगिता और संगीता ने भी बीएससी कर रखा है। सबसे छोटी बहन कृपा है जिसकी अभी शादी नहीं हुई है। वह भी बीएससी कर चुकी है।

इन 7 बहनों का भाई विकास गुर्जर भी स्काउट्स में राष्ट्रपति अवार्ड प्राप्त कर चुका है। इसके अलावा समय-समय पर सामाजिक कार्यों में भागीदार रहता है। विकास गुर्जर कई गानों के एल्बम में भी काम कर चुका है। कोरोना के वक्त भी अपने भाई विकास गुर्जर के साथ मिलकर सभी बहनों ने परिवार के साथ मिलकर घर पर मास्क बनाकर लॉकडाउन के समय खूब वितरित किए थे।