भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश मंत्री ने मुख्यमंत्री व मुख्य सचिव को पत्र लिखकर मुआवजा राशि बढ़ाने की मांग की

 
भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश मंत्री ने मुख्यमंत्री व मुख्य सचिव को पत्र लिखकर मुआवजा राशि बढ़ाने की मांग की

सवाईमाधोपुर/बोंली,(राकेश चौधरी)। भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के प्रदेश मंत्री रामावतार मीणा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं मुख्य शासन सचिव को पत्र लिखकर एसडीएफआर के तहत किसानों को दी जाने वाले राहत राशि को बढ़ाने की मांग की है।

प्रदेश मंत्री मीणा ने बताया कि किसानों को ओलावृष्टि, अतिवृष्टि,सुखा व बाढ़ के कारण फसलों के नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर 6800 रूपये अधिकतम ₹13600 प्रति दो हैक्टेयर तक मुआवजे के रूप में दिया जाता है। जो वर्तमान समय में महंगाई खर्च के हिसाब से ऊंट के मुंह में जीरे के समान है सभी प्रकार के कर्मचारियों, अधिकारियों, विधायकों, सांसदों व मन्त्रीयो  के महंगाई- भत्ते ,वेतन सैकड़ों बार बढ़ा दिए गए लेकिन किसानों को दी जाने वाली राहत राशि 35 साल पुराने नियमों के अनुसार ही दी जा रही है जब कि किसान को खाद, बीज, विद्युत, उराई, जुताई, कटाई के लगातार बढ़ते हुए दामों का भुगतान करना पड़ रहा है, लेकिन आपदा के समय सरकार द्वारा इन्हें मात्र लॉलीपॉप दिया जाता है।

 मीणा ने यह भी लिखा कि पूर्व में भी कई बार ज्ञापन पत्र देकर मांग की जा चुकी है लेकिन सरकार द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है। मीणा ने बताया कि पुनः पत्र भेजकर आग्रह किया गया है।कि किसानों को दी जाने वाली राशि को बढ़ाकर ₹25000 प्रति हेक्टर किया जाए तथा दो हैक्टर के स्थान पर 10 हैक्टेयर तक किसानों को मुआवजा राशि दिया जाना सुनिश्चित किया जाए। ताकि घाटे का सौदा बनती जा रही कृषि व कर्ज में डूबते एवं आत्महत्या करते किसानों को कुछ राहत मिल सके। यदि अब इस राशि को नहीं बढ़ाया गया तो जन जागरण चलाकर आंदोलन का रूप दिया जाएगा।