सवाई माधोपुर : छप्परपोश घर में लगी आग की भेंट चढ़ा 8 माह का मासूम, पुत्र के बचाव में मां भी झुलसी

 
Sawai Madhopur: 8-month-old innocent victim of fire in thatched house, mother also scorched in rescue of son
सवाई माधोपुर, (राकेश चौधरी)। बौंली उपखंड क्षेत्र के ग्राम रतनपुरा में एक छप्परपोश मकान में लगी आग से घर का चिराग बुझ गया (The lamp of the house was extinguished due to a fire in a thatched house in village Ratanpura of Baunli subdivision area.)। छप्पर पोश में अचानक लगी आग से वहां सो रहा  8 माह का बालक अमन कुमार आग की भेंट चढ़ (Aman Kumar, a 7-8 month old boy sleeping there due to fire, succumbed to the fire.) गया। वहीं छप्परपोश में रखा सामान जलकर खाक हो गया।

सरपंच सियाराम मीणा ने बताया कि दोपहर बाद ग्राम रतनपुरा में दिलखुश पुत्र जगदीश कुम्हार व हंसराज पुत्र प्रहलाद कुम्हार के घर पर आग लगने की सूचना मिली थी। सूचना पर ग्रामीणों ने आग को बुझाया, मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। 

दरअसल दिलखुश की पत्नी तुलसा खेत पर बने छप्पर पोश के समीप ही मूँगफली के खेत मे काम कर रही थी। ऐसे में छप्परपोश में एकाएक आग लग गई। भीषण आग की लपटों में अपने चिराग को बचाने के लिए भागकर पहुंची तुलसा भी आग में झुलस गई। इसके बावजूद वह अपने 8 माह के पुत्र अमन को नहीं बचा सकी। पटवारी रिपोर्ट के मुताबिक आगजनी में मोटरसाइकिल, बछड़ा, मूंगफली, अनाज व घरेलू सामान सहित लगभग 2 लाख 20 हजार का नुकसान संभावित बताया जा रहा है।

बहरहाल, मृतक अमन का शव पोस्टमार्टम के लिए सीएचसी बौली की मोर्चरी में लाया गया जहां चिकित्सकों की टीम द्वारा मृतक अमन का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया। प्रथम दृष्टया छप्पर पोश के समीप ही बने हुए अस्थाई चूल्हे में बची कुची आग से आगजनी की घटना का होना संभावित माना जा रहा है। हालांकि आगजनी के कारणों का खुलासा जांच के बाद ही हो सकेगा। स्थानीय लोगों ने पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा देने की मांग की है।