मित्रपुरा तहसील में उपखंड मजिस्ट्रेट के आदेशो की जमकर हो रही अवहेलना, SDM कोर्ट से स्टे के बावजुद कर दी जमीन की रजिस्ट्री

- नायब तहसीलदार सहित 11 के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज 
 
In Mitrapura tehsil, the orders of the subdivision magistrate are being fiercely disregarded, despite the SDM court stay, the registry of the land was done

सवाईमाधोपुर, (राकेश चौधरी)। मित्रपुरा तहसील कार्यालय में इन दिनों एसडीएम कोर्ट से जमीन पर दिये गये स्टे आदेश (Stay orders given on the ground from SDM court) की जमकर धज्जियां उड़ायी जा रही है। स्टे लगने के बाद भी तहसील कार्यालय में रजिस्ट्री की जा रही है। ऐसा एक ही मामला नहीं है इससे पूर्व में भी कई मामले सामने आ चूके है जिसमे स्टे होने के बाद भी तहसील कार्यालय में रजिस्ट्री कर दी (Registered in Tehsil office even after stay) गयी। वही अब एक और नया मामला सामने आया है जिसकी बौंली थाने में प्राथमिकी दर्ज हुई है।

दर्ज प्राथमिकी के अनुसार परिवादी गणपत सिंह की और परिवार की जमीन मोरन गाँव में स्थित है। जिसमे जमीन का हिस्सा अपने भांजे राजेन्द्र सिंह के नाम लग गया था जिसके शुद्धिकरण के लिए बौंली उपखंड न्यायालय में मामला विचाराधीन चल रहा था। मामले को लेकर न्यायालय उपजिला कलेक्टर बौंली ने 11 मई को उक्त भूमि को यथास्थिति बनाये रखने के लिए आदेश जारी किये थे लेकिन नायब तहसीलदार ने न्यायालय उपजिला कलेक्टर बौंली के आदेशो की अवहेलना करते हुए 25 मई को रजिस्ट्री कर दी। जिसके बाद परिवादी ने इस्तगासे के जरिये बौंली थाने में 11 लोगो के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

स्टे के एक दिन बाद ही तहसील कार्यालय में दे दी थी स्टे की प्रतिलिपि
परिवादी गणपत सिंह द्वारा थाने में दर्ज परिवाद के अनुसार जमीन पर लगे न्यायालय उपजिला कलेक्टर के स्टे की प्रतिलिपि मित्रपुरा तहसील कार्यालय में एक दिन बाद ही पंजीयन शाखा में जमा करवा दी थी लेकिन उसके बाद भी नायब तहसीलदार ने आदेशो की अवहेलना करते हुए रजिस्ट्री कर दी। 

पहले भी हुआ है ऐसा ही मामला 
मित्रपुरा तहसील कार्यालय में स्टे आने के बाद रजिस्ट्री होने का ये पहला मामला नही है करीब 15 दिन पहले भी एक ऐसा ही मामला सामने आया था जिसमे न्यायालय उपजिला कलेक्टर बौंली के स्टे आदेश होने के बावजूद जमीन की रजिस्ट्री कर दी गयी। जिसमे  तहसील कार्यालय के 4 कार्मिको के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था। 

नायब तहसीलदार सहित 11 के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज 
मोरन गांव में स्टे के बावजूद जमीन की रजिस्ट्री के मामले में तहसीलदार सहित 11 लोगो के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। जिसमे नायब तहसीलदार हरकेश मीना ओर दीपेंद्र सिंह पुत्र राजेन्द्र सिंह, रतन कंवर पत्नी राजेन्द्र सिंह, सुमन कंवर पुत्री राजेन्द्र सिंह, मुकुट कंवर पुत्र राजेन्द्र सिंह निवासी सांगानेर ओर अनूप सिंह पुत्र रघुवीर सिंह, काली देवी पत्नी रामनिवास, कमलेश कंवर पत्नी महेंद्र सिंह, संतोष कंवर पत्नी रेयत सिंह, गोपाल कंवर पत्नी उम्मेद सिंह, सुरेंद्र सिंह पत्नी मांगू सिंह निवासी मोरन के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है।