सवाई माधोपुर के बोंली में गत् रात अलग अलग स्थानों पर लगी भीषण आग, 10 लाख से ज्यादा का हुआ नुकसान

 
The loss of more than 10 lakhs in the fierce fire at three different places on the subdivision headquarters Bauli last night

सवाई माधोपुर, (राकेश चौधरी)। जिले के उपखंड मुख्यालय बौली पर विगत रात तीन अलग-अलग स्थानों पर लगी भीषण आग में 10 लाख से अधिक का नुकसान (The loss of more than 10 lakhs in the fierce fire at three different places on the subdivision headquarters Bauli last night) हो गया। एसएचओ कुसुमलता मीणा के नेतृत्व में मौके पर पहुंची बौंली थाना पुलिस ने स्थानीय लोगों के सहयोग से 2 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया अन्यथा बहुत बड़ा हादसा हो सकता था।

The loss of more than 10 lakhs in the fierce fire at three different places on the subdivision headquarters Bauli last night

प्राप्त जानकारी के अनुसार विगत रात 1 बजे फर्नीचर व इलेक्ट्रिकल्स व्यापारी कोकला जैन को किसी ने फोन पर उसके गोदाम में आग लगने की सूचना दी।जिसके बाद वह कुछ लोगों के साथ बालाजी रोड स्थित अपने गोदाम पर पहुंचा तो वहां भीषण आग की लपटें दिखाई दी।पीड़ित दुकानदार व स्थानीय लोगों की सूचना के बाद बौंली थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची। नगरपालिका मुख्यालय पर दमकल की व्यवस्था ना होने से रेस्क्यू में खासी परेशानी का सामना करना पड़ा।शुरू में तो पुलिस स्टाफ व मौजूद लोगों ने बाल्टीयों से पानी भर भर कर आग बुझाने का प्रयास किया। उसके बाद एचजी कंपनी के सहयोग से पानी के दो टैंकर मौके पर बुलवाया गए और 2 घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया।लेकिन तब तक गोदाम में रखा 7 लाख से अधिक का फर्नीचर व इलेक्ट्रिक सामान राख हो गया।

वहीं आजाद चौक में मनोज भारद्वाज का एक ऑटो जो घर के बाहर खड़ा रहता है उसमें भी भीषण आग लग गई और ऑटो आग की भेंट चढ़ गया।एक और आगजनी की घटना बौंली के आदर्श मार्केट में हुई जहां घर के बाहर खड़ी हुई एक कार में आग लग गई।एक साथ तीन स्थानों पर हुई आगजनी की घटना को लेकर स्थानीय लोगों ने असामाजिक तत्वों का हाथ होने की संभावना जताई जिस पर पुलिस टीम ने देर रात ही विभिन्न स्थानों पर जाकर सीसीटीवी फुटेज खंगाले। एसएचओ कुसुमलता मीणा के नेतृत्व में तीन अलग-अलग टीमें गठित कर असामाजिक तत्व की पहचान कर गिरफ्तार करने की कवायद शुरू कर दी गई। 

नगरपालिका मुख्यालय पर नही है दमकल
बौली में लंबे समय से लंबित दमकल की मांग का जख्म फिर हरा भरा हो गया। नगरपालिका मुख्यालय पर दमकल ना होने से रेस्क्यू कार्य में खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। स्थानीय लोगों ने बताया कि अगर बौंली में दमकल व्यवस्था होती तो इतना नुकसान नहीं होता।हालांकि पुलिस टीम के सहयोग से अंदर के दो गोदामों को सुरक्षित बचा लिया गया अन्यथा उक्त नुकसान 25 लाख रुपए तक हो सकता था। पुलिस टीम व स्थानीय लोगों ने वैकल्पिक संसाधनों की व्यवस्था की और बमुश्किल आग पर काबू पा लिया।बहरहाल पुलिस टीमें आरोपी की पहचान कर मामले का खुलासा करने की कवायद में जुटी हुई है।