राजस्थान:- आपस में भिड़े पार्षद-अधिशासी अधिकारी, जमकर हूआ हंगामा; मौके पर पहुंची पुलिस

 
anta news

 राजस्थान के बारां जिले की अंता नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी (ईओ) का चैंबर बीजेपी के पार्षदों ने अखाडा बना डाला। बीजेपी के पार्षदों ने ईओ कक्ष में जमकर हंगामा बरपाया। अधिशासी अधिकारी शुभम गुप्ता के साथ मारपीट की पूरी कोशिश की। ईओ को कई तरह से धमकाया। 


बीजेपी पार्षदों ने ईओ को जमकर अपशब्द भी बोले। इस दौरान कई मिनटों तक अधिशासी अधिकारी के चैंबर में तांडव मचा रहा। पार्षद हाथों से लातों से चैंबर में रखी कुर्सियां इधर से उधर फैंकते रहे। वहीं बीजेपी नेता और पार्षद रामेश्वर खंडेलवाल ने तो सारी हदें पार करते हुए ईओ शुभम गुप्ता से जुबांन खींच लेने की धमकी दी। बढ़ते मामले के बीच पुलिस पहुंची, तो दोनों पक्षों के बीच समझाइश की गई। 



मामले को लेकर अंता पुलिस थाने में बीजेपी के पार्षद रामेश्वर खंडेलवाल सहित 15 से ज्यादा अन्य बीजेपी के पार्षदों के खिलाफ राजकार्य में बाधा पहुंचाने, चैंबर में घुसकर जान से मारने के आरोप जडते हुए ईओ शुभम गुप्ता ने रिपोर्ट दर्ज करवाई हैं। वहीं बीजेपी के पार्षदों ने भी ईओ शुभम गुप्ता के खिलाफ सभी पार्षदों के साथ अभ्रदता करने एक एससी पार्षद को धक्के मारकर बाहर निकालने के आरोप में पुलिस को रिपोर्ट दी हैं।


अंता पुलिस थाना प्रभारी अनिल ने बताया कि दोनों पक्षों की ओर से रिपोर्ट मिली हैं। मामले के तथ्य जुटाकर जांच पडताल करके आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। दरअसल मिली जानकारी के अनुसार बीजेपी पार्षद दरअसल ईओ के चैंबर में पटटों की गाइड लाइन की मांग को लेकर पहुंचे थे। पार्षदों का कहना है कि अधिकारी ने इस दौरान उन्हें संतोषजनक जवाब नहीं दिया। वहीं पार्षदों के साथ अभद्रता की। वहीं ईओ शुभम गुप्ता ने कहना है कि पार्षदों ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी।