प्रेमी ने गूगल पर सर्च किए मर्डर के तरीके, फिर प्रेमिका की बेरहमी से कर दी हत्या, सिर पर किये कई वार

 
प्रेमी ने गूगल पर सर्च किए मर्डर के तरीके

पाली। पाली जिले में हत्या के एक आरोपी को पकड़ कर पुछताछ कर रही पुलिस के होश उड़ गये। पुलिस का कहना है कि आरोपी सनकी स्वभाव का है और आवेश में आकर निर्मम हत्या की वारदात को अंजाम दिया। इतना ही नहीं आरोपी ने वारदात से पहले गूगल सर्च भी किया। गूगल से आरोपी ने सवाल किए थे कि हत्या की धारा के तहत अधिकतम कितनी सजा मिल सकती है। हत्या के तरीकों की जानकारी भी आरोपी युवक ने गूगल पर सर्च किए। इसके बाद उसने अपनी प्रेमिका को मौत की नींद सुला दिया। पुलिस ने जांच के बाद आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

घटनाक्रम अनुसार जिले के पांचलवाड़ा गांव निवासी 12वीं में पढ़ने वाली छात्रा की निर्मम हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने बीते बुधवार देर रात को खुलासा किया। पुलिस ने बताया कि दांतीवाड़ा गांव निवासी एक युवक ने छात्रा को प्रेमजाल में फंसा रखा था, युवक स्वभाव से सनकी था। दोनों के बीच पिछले तीन साल से प्रेम संबंध थे। आरोपी प्रेमी लड़की पर शक करता था। इसी बात को लेकर दोनों के बीच आए दिन झगड़ा होता रहता था। युवक के बुलाने पर नाबालिग लड़की पांचलवाड़ा गांव में सुनसान क्षेत्र में बनी पानी की टंकी के पास उससे मिलने पहुंची थी। युवती को पहुंचने में थोड़ी देर हो गई। इस पर प्रेमी ने उससे पूछा कि इतनी देर से क्यों आई, क्या किसी ओर से बात चल रही थी। इस पर दोनों में विवाद हो गया।

जिला पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यंत ने बताया कि दातीवाड़ा गांव निवासी 19 वर्षीय विक्रम माली पुत्र अमृतलाल माली ने नुकीले पत्थर से एक के बाद एक कई वार बालिका के सिर पर किए। इसके चलते ही युवती की मौत हो गई। बाद में युवक को अपने गुनाह का अहसास हुआ। इसके बाद आरोपी पुलिस से बचने के लिए बीते 2 नवंबर को ही मुंबई भागने के लिए घर से निकल गया, जिसे पुलिस ने फालना रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने बताया कि पूछताछ में आरोपी ने बताया कि नाबालिग उस पर शादी करने का दबाव डाल रही थी। इसके लिए वह तैयार नहीं था। नाबालिग ने उससे बात करना कम कर दिया, जिससे उसे लगने लगा कि अब उसका चक्कर किसी दूसरे लड़के के साथ चल रहा है। बीते सोमवार की शाम को आरोपी ने वारदात को अंजाम दिया।