किसानो के संघर्ष की जीत पर कोटा शहर युवा कांग्रेस ने विजय दिवस मनाया

 
कोटा शहर युवा कांग्रेस ने विजय दिवस मनाया

कोटा। केंद्र सरकार द्वारा तीन काले कृषि कानून वापस लेने तथा किसानो के संघर्ष की जीत पर कोटा शहर युवा कांग्रेस ने विजय दिवस मनाया, जिसके तहत युवा कांग्रेस पूर्व जिला महासचिव यश गौतम के नेतृत्व मे युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने महावीर नगर तृतीय चौराहे से घटोत्गछ चौराहे तक केंडल मार्च निकालकर आंदोलन के दौरान शहीद हुए किसानो को श्रद्धान्जलि दी।

किसानो के संघर्ष की जीत

यश गौतम ने बताया की किसानो के लंबे चले आंदोलन के बाद आखिर सच्चाई की जीत हुई है, इससे यह साबित होता है की यह एक लोकतांत्रिक देश है जिसमे जनता ही जनार्दन है। किसानो ने जिस प्रकार शांतिपूर्वक तरीके से इतने लंबे समय तक आंदोलन कर संघर्ष किया जिसमे पूरे देश ने एकजुटता के साथ किसानो का साथ दिया इसी विरोध को देखते हुए केंद्र सरकार ने तीनो काले कृषि कानून वापस लेने की घोषणा की है, यह लोकतंत्र की जीत एवं किसान विरोधी केंद्र सरकार की हार है। 

इस आंदोलन के दौरान कई किसानो की संघर्ष करते हुए मौत हो गई, अगर केंद्र सरकार मनमानी ना करते हुए पहले ही तीनो काले कृषि कानून वापस ले लेती तो इतनी बड़ी संख्या मे किसानो की शहादत ना होती। किसानो के बलिदान की जीत हुई है, इसी को मद्देनजर कोटा शहर युवा कांग्रेस ने विजय दिवस मनाया।

जिसके तहत महावीर नगर तृतीय चोराहे से गटोत्गछ चौराहे तक केंडल मार्च निकाला गया तथा शहीद हुए किसानो को श्रद्धांजलि दी गई। केंद्र सरकार से मांग की गई की शहीद हुए किसानो के परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाए, अगर सहायता नही की जाती है तो युवा कांग्रेस द्वारा किसानो के समर्थन मे बड़ा जन आंदोलन किया जाएगा। जिसकी समस्त जिम्मेदारी केंद्र सरकार की होगी। केंडल मार्च मे मुख्य रूप से ललित मीणा, पवन शर्मा, इरफान खान, शोईब खान, अंकित धाकड़, बिट्टू सिंह, अजय गुप्ता, सूरज राजवानिया, पवन गौड़ आदि मौजूद रहे।