झालावाड़ : कालीसिंघ थर्मल पावर प्लांट का अधीक्षण अभियंता 85 हजार रिश्वत लेते हुआ ट्रेप

 
अधीक्षण अभियंता 85 हजार रिश्वत लेते हुआ ट्रेप

कोटा। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) कोटा की टीम ने कालीसिंघ थर्मल पावर प्लांट झालावाड के अधीक्षण अभियंता (सिविल) को 85 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा है। आरोपी विनोद कुमार खटीक छबड़ा पावर प्लांट में गार्डन मेंटिनेंस के कार्य का भुगतान करने की एवज में परिवादी से 85 हजार की मांग की थी।

आरोपी ने रिश्वत की राशि देने परिवादी को कालीसिंघ थर्मल पावर प्लांट झालावाड में बुलाया। आरोपी ने रिश्वत के रुपए ऑफिस के सोफे के नीचे रखवाए। इशारा मिलते ही एसीबी टीम ने रिश्वतखोर अभियंता को गिरफतार कर लिया। एसीबी टीम ने परिवादी की शिकायत मिलने के 24 घंटे के भीतर घूसखोर को पकड़ा है।

कोटा एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ठाकुर चन्द्रशील ने बताया कि एक परिवादी ने 1 नवम्बर को शिकायत दी थी। जिसमें बताया कि परिवादी व उसके पार्टनर को फर्म ने पावर ऑफ अटॉर्नी से छबड़ा थर्मल पावर प्लांट जिला बारां व कालीसिंध थर्मल पावर प्लांट जिला झालावाड़ में गार्डन मेंटेनेंस कार्य का ठेका दिया हुआ है। विनोद कुमार खटीक का 1 माह पहले ही छबड़ा थर्मल पावर प्लांट से कालीसिंघ पावर प्लांट में ट्रांसफर हुआ है।

उनके द्वारा छबड़ा थर्मल के कार्य से संबंधित 29 लाख के पास किए गए बिल व अन्य बिलों के भुगतान के एवज में कमीशन मांग रहे हैं।कालीसिंध थर्मल में पिछले 3-4 महीनों के किए गए कार्यों के 8 लाख के बिलों का भुगतान रोक रखा है। और पहले के भुगतान किए गए बिलों के एवज में कमीशन की राशि मांग रहा है।

शिकायत सत्यापन के दौरान आरोपी द्वारा 85 हजार की रिश्वत मांगने की पुष्टि होने पर आज ट्रैप कार्रवाई की गई। जिसमें आरोपी विनोद कुमार खटीक ने कार्यालय में रिश्वत राशि के बारे में वार्ता की। और परिवादी को रिश्वत राशि ऑफिस में रखें सोफे के नीचे रखने के लिए कहा। जिसके बाद एसीबी टीम ने विनोद खटीक को पकड़कर रिश्वत की राशी 85 हजार सोफे की सीट के नीचे से बरामद कर ली। विनोद कुमार खटीक मूलरूप से खातोला ग्राम नेकडिया थाना आसींद जिला भीलवाड़ा निवासी है। वर्तमान में थर्मल कॉलोनी सकतपुरा कोटा में रहते है।

टीम में अजीत बगडोलिया पुलिस निरीक्षक, हर्षराज सिंह खरेड़ा, उप पुलिस अधीक्षक, नरेश चौहान पुलिस निरीक्षक, भरत सिंह, नरेंद्र सिंह, दिलीप सिंह, मनोज कुमार, ब्रजराज सिंह, देवेंद्र सिंह, योगेंद्र सिंह, मोहम्मद खालिक शामिल रहे।