कोटा मंडल में डबल डेकर चेयर कार का अधिकतम स्पीड 180 किमी/घंटा से सफल ट्रायल

 
Successful trial of double decker chair car in Kota division with maximum speed of 180 km / h

कोटा। कोटा मंडल के नागदा-कोटा-सवाई माधोपुर सेक्शन में अनुसंधान अभिकल्प मानक संगठन, लखनऊ की टीम द्वारा 11 जुलाई को अधिकतम गति 180 किलोमीटर/घंटा का ट्रायल किया गया। यह ट्रायल आर.डी.एस.ओ.,लखनऊ के संयुक्त निर्देशक/टेस्टिंग राधे श्याम तिवारी के निर्देशन में किया गया।

आर.डी.एस.ओ,लखनऊ की टीम 06 जुलाई से डबल डेकर कोच की ट्रायल कोटा मंडल में कर रही है। 110 KMPH से प्रत्येक राउंड में 10 KMPH स्पीड बड़ा कर अधिकतम 180 KMPH तक ट्रायल की गई। 11 जुलाई को समय सुबह 11ः45 बजे से दोपहर 01ः45 बजे तक लबान से चौमहला स्टेशनों के मध्य 180 किमी/घंटा की अधिकतम गति का ट्रायल सफल रहा। इस ट्रायल में WAP5 लोको संख्या 35006 गाजियाबाद का उपयोग किया गया जिसका संचालन हाई स्पीड ट्रेंड लोको पायलट विनोद कुमार शर्मा और को पायलट पी. के.जादौन कोटा द्वारा किया गया।  अभी यह ट्रायल खाली कोच की स्थिति में किया गया।

आज के परीक्षण के बाद इसमें यात्रियों के वजन के बराबर सामग्री लोड कर कल से पुनः यही ट्रायल इसी प्रकार की जाएगी। इससे पूर्व जून माह से लगातार गति परीक्षण किया जा रहा है। जून माह से हॉट बफेट कार (पेंट्री) की दो बार इसी प्रकार 160 ज्ञडच्भ् तक खाली एवम भरी स्थिति में परीक्षण किया गया है। इस ट्रायल को ट्रैफिक निरीक्षक, कोटा अरविंद पाठक एवं लोको निरिक्षक, कोटा नाहर सिंह ने अनुसंधान अभिकल्प मानक संगठन, लखनऊ की टीम के साथ कोआर्डिनेट किया।