विश्व चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी कोटा की महक, दिल्ली एयरपोर्ट से स्पेन के लिए हुई रवाना

 
Kota's fragrance will represent India in the World Championship, leaves for Spain from Delhi airport

कोटा, (विशाल उपाध्याय)। 13 से 27 नवम्बर के बीच लानुष्या अलिकत स्पेन में होने वाली यूथ वर्ल्ड मुक्केबाजी चैपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व (Lanushya Alikat to represent India in Youth World Boxing Championship to be held in Spain) करने के लिए कोटा की बेटी महक शर्मा भारतीय टीम के साथ दिल्ली एयरपोर्ट से स्पेन के लिए रवाना (Kota's daughter Mehak Sharma leaves for Spain from Delhi airport with Indian team) हुई। 

कोटा मुक्केबाजी संघ के महासचिव देवी सिंह ने बताया कि महक 66 किलोग्राम भार वर्ग में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी। राजस्थान से महक एक मात्र बॉक्सर है जो इस चैम्पियनशिप में भारतीय टीम में सम्मिलित हुई। चैम्पियनशिप में भाग लेने से पूर्व बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने रोहतक नेशनल बॉक्सिंग सेंटर पर 15 अक्टूबर से 10 नवम्बर के बीच भारतीय टीम में खेलने वाले सभी खिलाडियों का प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया। चौम्पियनशिप में 12 गर्ल्स, 13 बॉयज, टीम कोच, मैनेजर, डॉक्टर, मसाजर, थेरेपिस्ट सहित 38 सदस्यों का दल भाग लेगा। 

कोटा की चौथी अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर बनी महक..
महक से पूर्व अरूंधती चौधरी, निशा और ईशा गुर्जर अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुकी है। गौरतलब है कि अरूंधती चौधरी ने 2021 में विश्व चैम्पिनयनशिप में स्वर्ण पदक प्राप्त कर कोटा को विश्व चैम्पिनशिप का खिताब दिलाया था। 

ऐसे शुरू हुआ महक का बॉक्सिंग का सफर...
महक ने अपने बॉक्सिंग कैरियर की शुरूआत महाबली स्पोर्टस अकेडमी में कोच अशोक गौतम की देखरेख में 2 जनवरी 2018 से की। सींता गांव की रहने वाली महक परिवार की सबसे बड़ी बेटी है। महक की चचेरी बडी बहन अंजली और छोटा भाई ऋषी, कोच अशोक गौतम के पास वुशु सिखने आते थे। एक दिन अशोक गौतम किसी काम से अंजली के घर गए। वहां अंजली के पिता रामावतार शर्मा ने उनकी मुलाकात महक के पिता अशोक शर्मा व महक से करवाई। महक की लम्बाई देखते ही गौतम ने उसके पिता से बोला की इसे स्टेडियम भेजना शुरू करो अच्छी लम्बाई है भविष्य में खेल में अच्छा नाम रोशन करेगी। तब से ही महक ने अपने गांव से अभ्यास के लिए नयापुरा स्टेडियम जाना शुरू कर दिया। महक रोजाना 6 घण्टे अभ्यास करती है और खुद बाइक चलाकर स्टेडियम पर सुबह शाम आती है। महक की बहन अंजली 4 बार राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाग लेकर 2 बार पदक प्राप्त कर चुकी है। महक वुशु में भी राष्ट्रीय स्तर पर पदक प्राप्त कर चुकी है। 

महक की इस उपलब्धी के बाद लोकसभा स्पीकर ओम बिरला, स्वायत्त शासन मंत्री शान्ति धारीवाल, नगर निगम उत्तर और दक्षिण महापौर मंजू मेहरा व राजीव अग्रवाल, राजस्थान मुक्केबाजी के महासचिव और बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के उपाध्यक्ष नरेन्द्र कुमार निर्वाण, कोटा मुक्केबाजी संघ के अध्यक्ष सुरेश चौधरी व एनआईएस कोच सूरज गौतम जिला खेल अधिकारी अब्दुल अजीज पठान ने महक और उसके कोच अशोक गौत्तम को बधाई देते हुए अरुंधती की तरह 2021 का इतिहास फिर से दोहराकर कोटा को एक बार फिर विश्व चैम्पियन का खिताब दिलाने की उम्मीद जताई है।