30 माह से पहले बदल जाएगी कोटा और डकनिया रेलवे स्टेशन की सूरत, निविदाएं एवं कार्य आदेश जारी

-अगस्त माह में मंडल में कई ऐतिहासिक काम हुए
 
Kota and Dakaniya railway station's appearance will change before 30 months, tenders and work orders issued

कोटा,(के के शर्मा 'कमल')। 30 माह में बदल जाएगी कोटा डकनिया रेलवे स्टेशन की सूरत (Appearance of Kota Dakaniya railway station will change in 30 months), साथ ही आमजन को मिल पाएंगी विश्वस्तरीय सुविधाएं। यह उद्गार मंडल रेल प्रबंधक पंकज शर्मा ने बोर्ड रूम में आयोजित पत्रकार वार्ता में व्यक्त किए।

मंडल रेल प्रबंधक कोटा पंकज शर्मा ने बताया कि मंडल में टिकट चेकिंग से दो करोड़ से अधिक की आय अर्जित कर रिकॉर्ड बनाया है, अब तक सम्पूर्ण यात्री ट्रेन समय पालन 96.17 चीज दी से कर मंडल को एक पहचान मिली है। विश्व स्तरीय स्टेशनों के रूप में डकनिया तालाब एवं कोटा रेलवे स्टेशनों का विकास के लिए क्रमशः 111.18 तथा 207.63 करोड़ की लागत का कार्य, का कार्य आदेश जारी कर दिया गया है 30 माह में तो डकनिया तालाब स्टेशन का कार्य 24 माह में पूर्ण होगा।

शर्मा ने बताया कि वन्दे भारत ट्रेन का कोटा मंडल में 180 KMPH पर ट्रायल रन जारी है, मंडल की रेल पटरी 160 किलोमीटर प्रति आवर के हिसाब से बिल्कुल तैयार है इसके लिए कई स्टेशनों पर वंदे भारत ट्रेन का ट्रायल भी हो चुका है। मंडल के चौमहला, भवानी मंडी एवं बारां स्टेशन पर गाड़ियों का ठहराव अतिरिक्त रूप से बढ़ा दिया गया है, बूंदी माल गोदाम का संचालन राउंड द क्लॉक, मिशन रफ़्तार 160 KMPH मथुरा - नागदा खंड में, तुगलकाबाद लोको शेड़ में इंजनो में नवाचार (ब्रेक प्रणाली), सहयोग केंद्र की स्थापना, गति शक्ति टर्मिनल का विकास, एवं एक स्टेशन एक उत्पाद की दुकानें 11 स्टेशनों पर लगाने का कार्य इत्यादि अगस्त माह की उपलब्धि रही है।

वार्ता में मंडल रेल प्रबंधक  पंकज शर्मा, अपर मंडल रेल प्रबंधक (टी-आई) राधवेन्द्र सारस्वत, अपर मंडल रेल प्रबंधक (ओ-ए) मनोज जैन, मंडल वाणिज्य प्रबंधक श्याम सिंह बरेडिया एवं अन्य शाखा अधिकारीगण तथा मीडिया कर्मी उपस्थित रहे। मंडल रेल प्रबंधक  कोटा द्वारा प्रेस वार्ता मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के बोर्ड रूम में आयोजित की।            

एक स्टेशन एक उत्पाद योजना में हथकरघा वालों को जोड़ने का आह्वान
मंडल रेल प्रबंधक ने मंडल क्षेत्र में 11 स्टेशनों पर एक स्टेशन एक उत्पाद योजना के तहत हथकरघा एवं क्षेत्र की प्रसिद्ध उत्पाद को प्रोत्साहन के लिए अधिक अधिक कलाकारों से आगे आकर योजना का लाभ उठाने का आह्वान किया है। 

सामाजिक सरोकारों से पौधारोपण को बढ़ावा
मंडल रेल प्रबंधक ने बताया कि सामाजिक सरोकारों के साथ कोई भी सामाजिक संस्था रेलवे शेत्र में स्वयं के खर्चे पर पौधारोपण एवं उनकी सार संभाल का जिम्मा कर ले तो वह सभी स्टेशनों पर कर सकते हैं, इसके लिए उन्होंने सामाजिक संस्थाओं से आगे आकर इस महा अभियान में भाग लेने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि मंडल में 151000 पौधों का रोपण किया गया है।  

पीपीपी मोड पर बूंदी स्टेशन पर वाणिज्य सुविधा
पीपीपी मोड पर मंडल के बूंदी स्टेशन पर वाणिज्य सुविधा के लिए दिया जावेगा। इसके लिए मंडल स्तर पर कार्यवाही जारी है जो भी संस्था या कंपनी इसे लेकर संचालन करना चाहती है उसके लिए रेलवे के दरवाजे खुले हुए हैं तथा निर्धारित मापदंडों एवं नियमानुसार यह कार्यवाही की जा रही है।

कई स्टेशनों पर धीमे कार्य, ट्रेनों के रखरखाव पर भी पूछे पत्रकारों ने सवाल
पत्रकार वार्ता के दौरान मंडल रेल प्रबंधक से पत्रकार के के शर्मा कमल एवं अन्य पत्रकारों ने मंडल क्षेत्र में चल रहे रेलवे के कार्यों के संदर्भ में जानकारी चाही एवं सवाल जवाब किए, जिस पर मंडल रेल प्रबंधक ने उनके प्रश्नों के उत्तर देते हुए मंडल क्षेत्र में यात्री सुविधाओं के विस्तार एवं निर्माण कार्यों की संबद्धता से पूर्ण कराने का संकल्प दोहराया।