Kota Smart City : मूलभूत सुविधाओं की राह देखती शहर की बस्तियां- राखी गौतम

- बस्तियों मे मूलभूत सुविधाऐं मुहैया कराने के लिए वन मंत्री चोधरी एवं उर्जा मंत्री भाटी से की मुलाकात 
 
मूलभूत सुविधाओं की राह देखती शहर की बस्तियां- राखी गौतम 

कोटा। कोटा दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत बसी बरडा बस्ती तथा क्रेसर बस्ती जो की काफी पुरानी 50 हजार से अधिक आबादी निवास वाली बस्ती होने तथा वन भूमि के चलते बस्तियों की जनता को मूलभूत सुविधाऐं उपलब्ध नही होने की गंभीर समस्या के मामले को लेकर कोटा दक्षिण कांग्रेस प्रत्याक्षी एवं पीसीसी सचिव राखी गौतम द्वारा आज राजस्थान के वन मंत्री हेमाराम चोधरी एवं ऊर्जा मंत्री भंवर सिंह भाटी से जयपुर स्थित निवास पर पर मुलाकात कर समस्या से अवगत कराया।

गौतम ने वन मंत्री चोधरी को बताया कि बस्ती मे विधुत लाईनों के पोल स्थापित करना, पेयजल हेतु पाईप लाईन बिछाना, सी0सी0 रोड व नाली निर्माण सहित अनेक विकास कार्याे पर वन विभाग के अधिकारियो द्वारा बाधा उत्पन्न की जाती हैं। कई वर्षाे पूर्व लगे विधुत ट्रांन्सफार्मर के खराब होने तथा विधुत लाईने जर्जर होने के तदोपरांत भी वन विभाग का हवाला देकर अधिकारियों द्वारा अपने काम की इतिश्री कर ली जाती हैं। नगर विकास न्यास द्वारा वन विभाग की भूमि बताकर विकास कार्य कराने से मनाही कर दिया जाता हैं।

भीषण गर्मी मे रहवासियों को 3 से 4 किलोमीटर दूरी तय करके पेयजल की आपूर्ति स्वयं को करनी पड रही हैं ऐसे मे समय व धन दोनो व्यय हो रहे हैं। बगैर मूलभूत सुविधाओं के बस्ती की जनता को नरकीय जीवन यापन करने हेतु मजबूर होना पड रहा हैं। बस्ती मे अधिकांश परिवार गरीब तबके के लोग निवास करते है,जिनकी आजीविका प्रतिदिन मजदूरी मात्र से चल पाती हैं।  

साथ ही वन मंत्री चोधरी द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुऐ सम्बंधित अधिकारी से दूरभाष पर बात करके बस्तिवासियों की समस्याओं को तुरंत प्रभाव से समाधान करने हेतु निर्देशित किया तथा गौतम को आश्वस्त किया की शीघ्र उक्त सभी समस्याओं का समाधान आगामी दिनो मे कर दिया जायेगा। तदोपरांत उर्जा मंत्री भाटी द्वारा समस्या को जनहित तथा गंभीर मानते हुऐ बस्तीवासियों की परिस्थितियों को देखते हुऐ लोगो को निर्बाध विधुत आपूर्ति कराने सहित सम्बंधित अधिकारियों को त्वरित प्रभाव से समस्या का निराकरण करने के लिए निर्देशित किया। समाजसेवी विध्याशंकर गौतम मुलाकात के दौरान उपस्थित रहें।