कोटा एसीबी ने रेलवे के सेक्शन इंजीनियर को 20 हजार की रिश्वत लेते किया गिरफतार

-16 लाख रूपये के हरे पेड़ कटाई ठेका के काम में बाधा नहीं डालने कि एवज में 50 हजार कमीशन कि मांग कर रहा था। 
 
Kota ACB arrested railway section engineer for taking bribe of 20 thousand
कोटा। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो कोटा स्पेशल यूनिट की टीम ने रेलवे वर्कशॉप कोटा में बड़ी कार्रवाई (Anti-Corruption Bureau Kota Special Unit team took major action in Railway Workshop Kota) करते हुए 20 हजार की रिश्वत लेते वर्कशॉप के इंजीनियर मुकेश जाटव को गिरफतार (Workshop engineer Mukesh Jatav arrested for taking bribe of 20 thousand) किया है। आरोपी इंजीनियर, ठेकेदार के काम में बाधा नहीं डालने की एवज में 50 हजार की रिश्वत की मांग कर रहा था। 10 हजार रुपए पहले ले चुका था। आज शुक्रवार को रिश्वत की दूसरी किश्त लेते पकड़ा गया है। फिलहाल एसीबी आरोपी को गिरफ्तार कर अपने साथ ऑफिस में ले गई है।

ACB के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय स्वर्णकार ने बताया परिवादी इमरान हुसैन व शरीफ खान ने शिकायत दी थी जिसमें बताया था कि उनकी फर्म हाड़ोती डिजिटल कोटा के माध्यम से रेलवे में हरे पेड़ों की नीलामी में खुली बोली लगाई थी। अधिकतम बोली हमारी फर्म की होने से दो बार हमारी फर्म के नीलामी खुली थी। जिसके बाद में व मेरा साथी शरीफ खान वहां पेड़ों की कटाई के लिए जाते थे। वहां मुकेश चंद जाटव वरिष्ठ सेक्शन इंजीनियर (कार्यालय सेकंड) हमें परेशान करता था और कुल नीलामी राशि 16 लाख रुपए का 3 प्रतिशत राउंड फिगर के हिसाब से 50 हजार रिश्व्त मांग रहा था। मुकेश दो बार में 5-5 हजार करके 10 हजार की रिश्वत ले चुका था। 

शिकायत पर एसीबी ने सत्यापन करवाया। जिसमें रिश्वत की मांग की पुष्टि हुई। जिसके बाद शुक्रवार को एसीबी की टीम ने ट्रेप का जाल बिछाया। रेलवे वर्कशॉप में जैसे ही ठेकेदार ने आरोपी को रिश्वत की रकम दी। इशारा मिलते ही एसीबी की टीम ने आरोपी को दबोच लिया।