Kota : टेंचिंग ग्राउंड हटाने की मांग को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं का निगम पर जंगी प्रदर्शन

- हजारों दोपहिया व चौपहिया वाहनों से पहुंचे लोग
 
Kota : BJP workers protest against corporation demanding removal of trenching ground

कोटा। नांता स्थित टेंचिंग ग्राउंड को हटाने की मांग को लेकर पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार कोटा उत्तर भाजपा कार्यकर्ताओं और नांता, करणी नगर, बड़गांव के स्थानीय नागरिकों ने बड़ी संख्या में वाहन रैली के रूप में निगम कार्यालय पहुंचकर जंगी प्रदर्शन किया।

सुबह 9 बजे से ही थर्मल चौराहे पर वाहनों का पहुंचना प्रारंभ हो गया था। नांता, करणी नगर, बड़गांव सहित सभी बस्तियों के लोग नांता से ही रैली के रूप में थर्मल चौराहे पहुंचे व कोटा उत्तर भाजपा के अन्य कार्यकर्ता भी थर्मल चौराहे पर एकत्रित हुए। प्रदर्शन में बड़ी संख्या में नांता सहित आसपास की सभी बस्तियों की महिलाएं भी बड़ी संख्या में शामिल हुई।

 नगर निगम पर जनसमूह को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक प्रहलाद गुंजल ने कहा कि चुनाव के दौरान नांता, करणी नगर, बड़गांव की एक एक गली में घूम कर वर्तमान स्वायत्त शासन मंत्री ने जनता से वादा किया था की आप मुझे चुनाव जिताओ मैं छः महीने के अंदर ट्रेंचिंग ग्राउंड हटा दूंगा किंतु अब साढ़े तीन साल गुजरने के बाद भी जब टेंचिंग ग्राउंड नहीं हटा तो हमने मंत्री को  उनका वादा याद दिलाने के लिए आंदोलन करने का निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि आज हम निगम अधिकारियों से वार्ता कर ट्रेंचिंग ग्राउंड हटाने का अनुरोध करेंगे यदि हमारी वार्ता सफल नहीं होती है तो आगे हम नगर निगम नहीं आएंगे बल्कि नांता की सड़कों पर ही निगम व जिला प्रशासन से वार्ता करेंगे।

गुंजल ने अपने संबोधन में कहा कि पूर्व में हुए तीन प्रदर्शनों में मंत्री ने प्रशासन पर दबाव बनवाकर धारा 144 लगवा दी उसके बाद भी प्रदर्शन नहीं रुका व प्रदर्शन में ज्यादा जोश के साथ लोग शामिल हुए।  परंतु इस बार प्रशासन ने धारा 144 लगाने से मना कर दिया कि जब धारा 144 लगाने के बाद भी लोग नहीं रुकते तो फिर इसका क्या फायदा। गुंजल ने कहा कि निगम के महापौर व अधिकारी कह रहे हैं कि हम प्लांट लगाकर 18 महीने में कचरे का डिस्पोजल कर देंगे। इस पर उन्होंने कहा कि 18 महीने का बहाना नहीं चलेगा 18 महीने बाद तो जनता आपका डिस्पोजल कर देगी मंत्री जी आपकी सरकार जाने वाली है।

केईडीएल का वादा भी याद दिलाया
गुंजल ने कहा कि मंत्री जी 2018 के चुनाव में आपने पत्र बांट कर कहा था प्रहलाद गुंजल कोटा में केईडीएल ले आया मैं आया तो 10 दिन में केईडीएल हटा दूंगा। आप काबीना मंत्री रहते केईडीएल नहीं हटा पा रहे तो जनता से माफी मांगते हुए नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे दो। गुंजल ने कहा कि शहर में किसने मांगे थे बड़े बड़े चौराहे, किसने मांगी थी पुलियाए, किसने मांगे थे अंडरपास पर आप एक काम जरूर कर रहे हो स्मार्ट सिटी के पैसे को व जनता के धन को बर्बाद करने का। इस अवसर पर पूर्व पार्षद बृजेश शर्मा नीटू ने अपने संबोधन में कहा कि 10 दिन में केईडीएल हटाने, छः महीने में टेंचिंग ग्राउंड हटाने वाले मंत्री इस बात का जवाब दे की उन्होंने जनता से इन वादों पर वोट मांगे थे या भारी-भरकम चौराहों के नाम पर वोट मांगे थे।

स्वेच्छा से बंद रहे करणी नगर, नांता व बड़गांव के बाजार
प्रदर्शन के दौरान नांता, करणी नगर व बड़गाँव के लोगों ने सुबह से ही स्वेच्छा से अपने-अपने प्रतिष्ठान बंद रखें व विरोध प्रदर्शन करते हुए प्रदर्शन में बड़ी संख्या में स्थानीय महिला व पुरुष प्रदर्शन शामिल हुए।

 47 डिग्री तापमान भी नहीं तोड़ पाया लोगों का हौसला
रैली में सुबह 9 बजे से ही लोगों में जोश था जो दोपहर 1 बजे तक 47 डिग्री तापमान में भी कम नहीं हुआ भीषण गर्मी में भी लोगों का हुजूम पूरे जोश के साथ रैली में सरकार और निगम प्रशासन के खिलाफ नारे लगाते चल रहा था।

निगम अधिकारियों से वार्ता के दौरान नहीं बनी बात
प्रदर्शन के उपरांत पूर्व विधायक प्रहलाद गुंजल के नेतृत्व में नांता के पार्षदों व वरिष्ठ लोगों का एक प्रतिनिधिमंडल दोनों निगम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी से मिला वहां दोनों सीईओ के अलावा एडीएम सिटी राजकुमार सिंह व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  प्रवीण चंद जैन मौजूद थे।

गुंजल ने कहा कि गत दिवस हुई पत्रकार वार्ता में आप दोनों सीईओ भी मौजूद थे और आपने यह दावा किया था कि ट्रेंचिंग ग्राउंड हटाने वह वहां पड़े कचरे के निस्तारण को लेकर हमारा एक्शन प्लान तैयार है और हम तो सिर्फ श्रेय लेने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं तो आप हमें बताएं इस हेतु आपका एक्शन प्लान क्या है। वहा कितने दिन में हो काम हो जाएगा। इस पर दोनों ही मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्पष्ट जवाब नहीं दे पाए। लगभग आधे घंटे चली वार्ता में पूर्व विधायक गुंजल इस बात पर अड़े रहे कि आप हमें समय बताएं कितने दिन या कितने महीने में नांता टेंचिंग ग्राउंड पर नया कचरा आना बंद हो जाएगा व पुराने कचरे का निस्तारण कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा आप बताएं एक महीना, 2 महीना, 3 महीना वरना आज के बाद आपसे कोई वार्ता नहीं होगी हम नांता की सड़कों पर प्रदर्शन करेंगे व वहां नया कचरा नहीं बनने देंगे व आपसे भी वहीं पर वार्ता होगी।

 गुंजल के बार बार पूछने पर भी जब अधिकारी कोई जवाब नहीं दे पाए तो गुंजल ने कहा जो एक्शन प्लान कल आपने और महापौर ने पत्रकार वार्ता में बताया था वही बता दीजिए उस पर भी अधिकारी कुछ कहने से बचते रहे। इस पर गुंजल ने कहा कि तो हम यह मान ले कि गत दिवस जो आपने पत्रकार वार्ता ने बताया वह एक और झूठ का पुलिंदा नांता के लोगों को भरोसा था।

आपने प्रेस वार्ता कर नांता की जनता,शहरवासियों व प्रशासन सहित सभी को धोखे में रखा है। यदि आपके पास कोई एक्शन प्लान था तो बताएं नहीं तो आज भी प्रेस व जनता के सामने बोलो कि टेंचिंग ग्राउंड को लेकर हमारे पास अभी तक कोई एक्शन प्लान नहीं है। वार्ता के दौरान पूर्व पार्षद बृजेश शर्मा नीटू ने आरोप लगाया कि कचरा संग्रहण के लिए जो 19 करोड़ का टेंडर कराया है उसमें बहुत बड़ा गड़बड़झाला है एक ही फर्म ने टेंडर डाला और बिना नेगोशिएशन किए उसे ही कार्य दे दिया गया इसमें बड़ा भ्रष्टाचार हुआ है जिसे लेकर आगामी दिनों में हम एसीबी में जाएंगे। 

वार्ता के उपरांत पूर्व विधायक गुंजल ने सभी अधिकारियों को चेतावनी दी कि आपके पास अभी तक कोई एक्शन प्लान नहीं है और आप जनता की मांग का कोई जवाब देने की स्थिति में भी नहीं है अगर अब वहां पर आग लगती है तो हम नांता के लोगों के साथ रास्ता जाम करेंगे व टेंचिंग ग्राउंड पर नया कचरा नहीं डलने देंगे फिर चाहे जो भी हो।

वार्ता के दौरान गुंजल ने उपस्थित अतिरिक्त जिला कलेक्टर व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक से कहा कि निगम के गैर जिम्मेदाराना रवैया से यदि आगामी दिनों में कानून व्यवस्था बिगड़ती है तो इसका जिम्मेदार भी निगम प्रशासन ही होगा।