जोधपुर की इस मंडी में बिकता है लड़कियों का जिस्म, तंग गलियों में फिसलते नादान युवा, होते है शिकार

 
The body of girls is sold in this market of Jodhpur, ignorant youths slipping in the narrow streets, are victims

जोधपुर। जिले के घास मंडी में हर शाम जिस्म की मंडी सजती है (Every evening the market of the body is decorated), जिस्म के सौदे किए जाते हैं और नौजवान फिसलते हुए इन तंग गलियों में पहुंच जाते (Young people slipped and reached these narrow streets) हैं। यहां दिन के उजाले से लेकर अंधेरी रात तक महिलाएं और युवतियां जिस्म का काला सौदा करती (From the light of day to the darkest of night, women and girls make black deals of the body.) है।

 रातभर आबाद रहने वाले इस इलाके में चौखट पर खड़ी लड़कियां इशारों ही इशारों में इन्हें अपने पास बुलाती और अपने जिस्म का सौदा करती है। इन लड़कियों को ना तो पुलिस का और ना ही कानून का कोई खौफ है। कहा तो यह भी जाता है कि पुलिस को भी हर महीने यहां से बंधी मिल जाती है, जिसके चलते इनपर कर्रवाई करने वाला कोई नहीं है।

शहर की इन बदनाम गलियों में दिनभर युवाओं की चहलपहल दिखाई देती है। सौदेबाजी के बाद यदि आप इनके साथ चले गए तो आपकी जेब में एक रूपया भी नहीं बचेगा। यह आपको लूट लेंगी, इतना ही नहीं बल्कि इन तंग गलियों में कई गैंग एक्टिव हैं, जो यहां आने वालों को डरा-धमका कर लूट लेते हैं और जिसका  मामला कभी भी पुलिस तक नहीं पहुंचता है।

शहर में चलने वाले ज्यादातर सेक्स रैकेट यही से ऑपरेट होते हैं, इनमें हाई प्रोफाइल मामलों से लेकर लो-प्रोफाइल तक सबी तरह के मामले शामिल है। पुलिस भी शहर में एकाध सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ कर अपनी वाहवाही करवा लेती है, लेकिन बड़े गैंग पर वो भी हाथ मारने से पीछे हटती है। 

बता दें कि भारत में IPC के मुताबिक, वेश्यावृत्ति वास्तव में गैर-क़ानूनी नहीं है, लेकिन कुछ मामलों में इसे दंडनीय बताया गया है। जैसे न इसके लिए किसी को फोर्स करना और सार्वजनिक वेश्यावृत्ति करना गैरकानूनी है। वेश्यालय का मालिकाना हक भी अवैध है। आज भी देश में ऐसे कई इलाके हैं, जहां लड़कियां और महिलाएं देह व्यापार में लिप्त है, इनमें कुछ की मजबूरी है और कुछ पैसे कमाने के लिए जिस्मफरोशी के धंधे में उतर गईं हैं।