जोधपुर : CRPF के जवान ने इंसास गन से खुद को मारी गोली हुई मौत, पत्नी व बच्चे को घर में बना रखा था बंधक

 
Jodhpur: CRPF jawan shot himself dead with INSAS gun, kept wife and child hostage at home

जोधपुर। जिले के सीआरपीएफ (CRPF) के प्रशिक्षण केंद्र में जवान नरेश ने ख़ुद को गोली मारकर जान दे दी (Jawan Naresh killed himself by shooting himself in the training center)। जवान ने प्रशिक्षण केंद्र परिसर में ही स्थित अपने क्वार्टर में रविवार शाम से पत्नी व बच्चे के साथ खुद को बंद किया हुआ था। उसने क्वार्टर की बालकनी में आकर कई फायर भी किए थे। लगातार पुलिस व उच्च अधिकारियों के द्वारा समझाने के बाद भी बात नहीं बनी, आखिरकार सीआरपीएफ के जवान नरेश ने सेल्फ फायर कर खुद की जीवनलीला समाप्त कर ली। कंपाउंड में फॉरेंसिक टीम पहुंची है जहां अग्रिम कार्रवाई जारी है।

जानकारी के अनुसार, यह घटनाक्रम रविवार शाम 6ः30 बजे शुरू हुआ था। नरेश ड्यूटी से अपने क्वार्टर में लौटा था। उसने किसी नाराजगी को लेकर क्वार्टर का दरवाजा अंदर से बंद कर लिया उसकी पत्नी और बेटी भी अंदर ही थे इसके बाद नरेश ने क्वार्टर की बालकनी में आकर हवाई फायर करने शुरू कर दिए उसने थोड़ी थोड़ी देर बाद 10-12 फायर किए इससे वहां दहशत फैल गई। इसे पहले सीआरपीएफ के अधिकारियों ने समझाने का प्रयास किया। फिर पुलिस अधिकारी भी वहां पहुंचे।

अधिकारियों ने पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम पर उससे शांत होने और बाहर आ जाने का आग्रह किया लेकिन वह नहीं माना। अधिकारियों द्वारा उसके परिवार वालों को भी बुलाया गया जहां उसके भाई पिता और दोस्तों के द्वारा भी समझाया गया लेकिन बात नहीं बनी और तकरीबन 18 घंटे तक ये संपूर्ण घटनाक्रम चलता रहा। आईजी विक्रम सहगल भी समझाने के लिए उनके घर पहुंचे पर बात नही बनी। सीआरपीएफ आईजी के सामने ही जवान ने इंसास गन से खुद को गोली मार ली।

नरेश जाट पाली जिले का मूल निवासी था। पिता, भाई और मित्रों से फोन पर उसकी बात कराई गई। सब ने उसे समझाने का प्रयास किया इसी कशमकश में रात बीत गई सुबह भी उसे समझाने के प्रयास चलते रहे आखिर कुछ देर पहले उसने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। उसके बाद मौके पर फॉरेंसिक जांच दल को बुलाया गया जिसने वहां से साक्ष्य इकट्ठा किये है, वहीं पुलिस ने भी अपना अनुसंधान शुरू किया है।

इधर, जानकारी में यह बात सामने आई है कि जवान नरेश की अपने वरिष्ठ अधिकारी भूपेंद्र सिंह से छुट्टी पर जाने को लेकर बात हुई थी। जो कि कहासुनी में तब्दील हो गई। इसके बाद ड्यूटी पूरी होने के बाद घर पहुंचते ही जवान नरेश द्वारा घर की बालकनी से फायर शुरू हुई है। जिसके बाद लगातार फायर किए जाने के बाद एक बारगी दहशत भरा माहौल हो चुका था। बाद में पुलिस द्वारा समझाने के प्रयास किये गए लेकिन बात नही बनी।

जोधपुर पुलिस कमिश्नर रविदत्त गौड़ ने कहा कि रविवार शाम से यह घटनाक्रम चल रहा था जिसमें कुछ इशु को लेकर के बात थी अब से थोड़ी देर पहले नरेश ने खुद को गोली मार ली। गोली ठूडी के निचले हिस्से पर लगी है। मामले में अग्रिम कारवाई जारी है।