झुुंझुनूं कलेक्टर ने दिया सख्त आदेश- गाइडलाइन की पालन नहीं करने वालें स्कुलों की मान्यता करें रद्द

 
झुुंझुनूं कलेक्टर ने दिया सख्त आदेश- गाइडलाइन की पालन नहीं करने वालें स्कुलों की मान्यता करें रद्द

झुुंझुनूं। राज्य सरकार के सख्त आदेशों के बावजूद भी निजी स्कूल संचालक बच्चों की जान जोखिम में डाल कर बच्चों को स्कूल बुला रहे हैं। जिला प्रशासन और शिक्षा विभाग इन पर कोई निगरानी नहीं रख पा रहा है। कलेक्टर यूडी खान ने जिला शिक्षा अधिकारी के नेतृत्व में टीमें बनाकर सर्च करने के आदेश दिए हैं। सरकारी आदेशों को नहीं मानने वालों को खिलाफ कार्रवाई करें, स्कूल की मान्यता रद्द करें।

जिला मुख्यालय पर बहुत सी स्कूलें खुल रही हैं। सरकार और कलेक्टर के आदेशों की धज्जियां उड़ती नजर आ रही। बाकायदा बच्चों को स्कूल बुलाया जा रहा है। राज्य सरकार कोरोना की गाइड लाइन जारी करते हुए शहरी क्षेत्र में 12वीं तक के बच्चों की स्कूल बंद रखने के आदेश जारी किए थे।

इसके बावजूद भी स्कूल संचालकों ने बच्चों की जान की परवाह किए बिना ही कक्षाओं में बैठाकर रखा। कलेक्टर यूडी खान ने कोरोना गाइड लाइन की पालना नहीं करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। खास तौर से स्कूल संचालकों पर ध्यान रखने के लिए जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने बताया कि जो स्कूल संचालक सरकार के आदेशों को नहीं मान रहे हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। कोतवाली पुलिस ने कोरोना गाइड लाइन की पालना नहीं करने पर पांच लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए हैं। थानाधिकारी सुरेन्द्र देगड़ा ने बताया कि विश्वनाथ, सीताराम, राकेश, सुनिल तथा सद्दाम के खिलाफ कोरोना गाइड लाइन की पालना नहीं करने पर मामला दर्ज किया गया है।