झालावाड़ : कलाकार ने अपने कैनवास पर दर्शाया बिजली कटोती पर पेंटिंग में गरीब जनता का दर्द और नेताजी का ऐशो आराम

 
The artist depicted on his canvas the pain of the poor people and the luxuries of Netaji in the painting on the power cut

 झालावाड़/सुनेल, (राहुल राठौर) । सुनेल नगर के स्थानीय प्रसिद्ध जेके आर्ट्स कलाकार जगदीश राणा द्वारा वर्तमान में बिजली कटौती को लेकर अपने कैनवास पर जनता का दर्द बयां किया कि वर्तमान समय में हो रही अघोषित बिजली कटौती से क्षेत्रवासी नहीं बल्कि ग्रामीण आम जनता का जनजीवन काफी प्रभावित दिखाई पड़ता है। जगदीश राणा पूर्व में भी कोरोना महामारी को लेकर कहीं सामाजिक कार्य किये। पेंटिंग के माध्यम से चौराहे वह गली नुक्कड़ पर पेंटिंग बना कर जागरूक किया गया था। 

कैनवास पर कार्टून पेंटिंग के माध्यम से बयां किया बिजली कटोती का दर्द
जेके आर्ट्स ने अपनी कैनवास कार्टून पेंटिंग मैं एक तरफ तो नेताजी के ऐशो आराम दिखाएं तो दूसरी तरफ आम जनता का दर्द बताएं पेंटिंग में रात्रि के समय में एक तरफ नेता जी के घर एसी पंखा कूलर और इनवर्टर जैसी अद्भुत सुविधा दर्शाई गई है, तो दूसरी तरफ गरीब एवं आम जनता का दर्द बताया गया। रात्रि का वही दृश्य जिसमें माता बहने बीजनी पंखा गत्ते की सहायता से मच्छरों के आतंक से अपने परिवार को बचाने का प्रयास करती हैं।

वही पिता भी अपनी भूमिका निभाता है और लाइट एवं मोमबत्ती, चिमनी की सहायता से घर को रोशन करने के जुगाड़ में जूट जाता है। रात्रि के समय उसी चिमनी की सहायता से बच्चे अपने परीक्षा की तैयारी में जुटे रहते हैं और अपने पापा से बार-बार प्रश्न करते हैं कि पापा बिजली कब आएगी? स्थानीय कलाकार जेके आर्ट्स ने सरकार से अपील की अघोषित बिजली कटौती पर ध्यान दिया जाए और आम जनता के दर्द को समझा जाए।