झालावाड़ : बुर्जग महिला से सोने के कंगन लूट की वारदात का पर्दाफाश, अभियुक्त गिरफ्तार व माल बरामद

 
Jhalawar: The incident of robbing gold bracelets from the elderly woman exposed, accused arrested and goods recovered
 झालावाड़, (राहुल राठौर) । पुलिस थाना सुनेल जिला पुलिस अधीक्षक मोनिका सेन (Police Station Sunel District Superintendent of Police Monika Sen) ने बताया कि थानाधिकारी पुलिस थाना सुनेल मय जाप्ता द्वारा लूट के प्रकरण में मुलजिम जाबिर हुसैन पुत्र इनायत अली बोहरा उम्र 62 साल निवासी मोयतपुरा सुनेल को 18 अप्रेल को गिरफ्तार किया गया था। जिसे प्रकरण में बाद कार्यवाही शिनाख्त जैल भवानीमण्डी से लाकर अनुसंधान कर माल बरामद किया गया।

घटना क्रम के अनुसार 10 अप्रेल को फरियादीया नफीसा पत्नि मुस्तफा बोहरा उम्र 55 साल निवासी मडलोई गली पुलिस थाना सुनेल जिला झालावाड ने एक रिपोर्ट इस आशय की पेश की कि आज 10 अप्रेल को में नमाज अदा करने के लिए बुरहानी मस्जिद पर गई थी। घर पर मेरी सास अमीना बाई उम्र 75 साल घर पर अकेली थी तथा घर के दरवाजे खुले थे। जब मे घर पर वापस आई तो मेरी सास अमीना बाई ने मुझे बताया की अभी-अभी एक व्यक्ति आया और मेरे दायिने हाथ में पहनी सोने का कंगन (चूडी) उतार ली दूसरी चूडी भी ले जाने लगा लेकिन नहीं खुली तथा वहा से भाग गया। इस पर प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान प्रारम्भ किया गया।

घटना की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक झालावाड़ के निर्देशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश शर्मा के निर्देशन एवं वृत्ताधिकारी वृत्त पिडावा तपेन्द्र मीणा के सुपरवीजन में थानाधिकारी थाना सुनेल के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। घटना स्थल के आस पास के सीसीटीवी फुटेज देखे गये। अज्ञात आरोपी की तलाश पतारसी के लिए मुखबिर मामूर किय गये तथा कस्बावासियों से घटना के संबंध में थाना हाजा की गठित टीम द्वारा लगातार सम्पर्क रखकर मुखबिर खास की सुचना पर 18 अप्रेल को आरोपी जाबिर हुसैन पुत्र इनायत अली बोहरा उम्र 62 साल निवासी मोयतपुरा थाना सुनेल को बापर्दा गिरफ्तार कर जेल दाखिल करवाया गया था जिसे कार्यवाही शिनाख्त के बाद 25 अप्रेल को उपकारागृह भवानीमण्डी से लाकर माल मशरूका सोने का कंगन व 20 हजार रूपये बरामद करने में सफलता प्राप्त की है।

तरीका वारदात-
अभियुक्त लाईट, नल फिटिंग का काम करता है तथा पीड़िता के घर आना जाना था। वर्तमान में रमजान का माह चल रहा है जिसमे बोहरा समाज के सभी लोग सुबह मस्जिदों मे जाकर नमाज अदा करते है मुलजिम को पूर्व से पता था की पीडिता व उसकी बहु घर पर अकेली ही रहती है बहु सुबह के समय नमाज अदा करने जाती है व पीड़िता घर पर अकेली रहती है। इसी बात का फायदा उठाकर मुलजिम ने पीड़िता के घर पर जाकर वारदात को अंजाम दिया।