युवक ने बौलेरो के नंबर देखे गाड़ी से मारी टक्कर, 400 मीटर तक घसीटा, उपचार के दौरान हुई मौत

 
युवक ने बौलेरो के नंबर देखे गाड़ी से मारी टक्कर, 400 मीटर तक घसीटा, उपचार के दौरान हुई मौत

जैसलमेर। जिले के पोकरण इलाके में एक युवक को गाड़ी से घसीटने और हत्या करने का मामला सामने आया है। वारदात के बाद से नोख क्षेत्र में सनसनी फैल गई। घटना के बाद मृतक के भाई की ओर से पुलिस में मामला दर्ज करवाया है। जैसलमेर एसपी डॉ. अजयसिंह के निर्देश पर नाचना वृताधिकारी कैलाश विश्नोई के सुपरविजन में नोख पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस के मुताबिक, भजनलाल विश्रोई ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि नोख बस स्टैंड पर उसका भोजनालय है, यहां वह और उसका छोटा भाई अजयपाल काम करते हैं। 11 जनवरी की रात दोनों भोजनालय बंद कर घर के लिए रवाना हुए। वो, उसका भाई अजयपाल और लक्ष्मण तालरिया की तरफ जा रहे थे।

रात करीब सवा 11 बजे नोख से छह-सात किमी. की दूरी पर तालरिया रोड पर एक बोलेरो गाड़ी खड़ी देखी। उन्होंने अपनी मोटरसाइकिल दूर खड़ी की और रात के समय रास्ते में बोलेरो खड़ी होने पर संदेह के आधार पर उसके नंबर देखने लगे। उसके भाई अजयपाल ने गाड़ी के नजदीक जाकर नंबर देखे, तभी अंदर से चालक सीट पर बैठे व्यक्ति ने मुंह बाहर निकाला और जान से मारने की धमकी दी। चालक ने गाड़ी को थोड़ा पीछे किया और जान से मारने की नीयत से उसके भाई अजयपाल पर चढ़ा दी। भाई बंपर पर गिर गया। फिर उसके भाई को करीब 400 मीटर तक घसीटते हुए रास्ते में छोड़कर फरार हो गया।

भजनलाल ने कहा कि अजयपाल गंभीर रूप से घायल होकर सड़क पर पड़ गया, उसके सिर, पैर और शरीर पर गंभीर चोटें लगी और सड़क भी खून से लथपथ हो चुका था। उन्होंने तत्काल एक वाहन बुलाया और नोख अस्पताल लेकर आए। यहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद बीकानेर रेफर कर दिया। बीकानेर में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। गुरुवार को तालरिया गांव में उसका अंतिम संस्कार किया गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।