शराबमुक्त रामदेवरा : राज्य सरकार के आदेश पर रामदेवरा कस्बे से अब हटेगी शराब की दुकानें

- आबकारी विभाग दो दिन में शराब की दुकानें कस्बे से बाहर करेगा
 
 
Liquor-free Ramdevra: On the orders of the state government, liquor shops will now be removed from Ramdevra town

जैसलमेर/रामदेवरा। विश्वप्रसिद्ध धार्मिक स्थल रामदेवरा (world famous religious place ramdevra) में तीन वर्षों बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आदेशों की पालना होगी और रामदेवरा की आबादी क्षेत्र से शराब की दुकानें बाहर लगेगी (Liquor shops will be set up outside the population area)। 28 अगस्त तक आबकारी विभाग बाजार में लगी दुकानों को आबादी क्षेत्र से बाहर स्थानांतरित करेगा। 

Liquor-free Ramdevra: On the orders of the state government, liquor shops will now be removed from Ramdevra town

गौरतलब है कि शराबमुक्त रामदेवरा संघर्ष समिति के बैनर तले मार्च 2019 में अनशन किया गया था, जिसमे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ख़ुद पहुंचकर संघर्ष समिति के अध्यक्ष आनन्द सिंह तंवर सहित अन्य लोगों को ज्यूस पिलाकर अनशन तुड़वाया था और रामदेवरा में शराबबंदी की मांग मानकर आबादी क्षेत्र से बाहर दुकानें लगाने का आश्वासन दिया था। लेकिन सीएम के आदेशों की पालना तीन वर्षों बाद भी नहीं हुई थी। जिससे व्यथित होकर आनन्द सिंह तंवर ने 20 अगस्त को सीएम को ज्ञापन भेजकर 27 अगस्त तक आदेश लागू नहीं होने पर आत्मदाह करने का ऐलान किया था। 

जिसके बाद आबकारी विभाग द्वारा आज यह आदेश लागू करने का आश्वाशन दिया और दो दिन बाद यह आदेश लागू होगा और दुकानें बाहर लगेगी। 

मामले को कलेक्टर टीना डाबी ने गंभीरता से लिया। इसके बाद आज पोकरण एसडीएम राजेश कुमार विश्नोई, पोकरण डीएसपी अमरजीत चावला, रामदेवरा थानाधिकारी दलपत सिंह चौधरी, रामदेवरा सरपंच समंदरसिंह तंवर, पुलिस उपनिरीक्षक विशन सिंह की उपस्थिति में जिला आबकारी अधिकारी डॉ भवानी सिंह राठौड़ ने दो दिन में सीएम का आदेश लागू करने का पत्र सौंपा। 

आनंद सिंह तंवर ने जिला कलेक्टर टीना डाबी द्वारा इस मामले को गंभीरता से लेने पर बाबा रामदेव जी के लाखों श्रद्धालुओं की तरफ से उनका आभार व्यक्त किया है।