सेवारत चिकित्सको को पूर्व की भांति सीनियर रेसिडेंटशिप व सहायक आचार्य पदों पर मिले समान लाभ

- सेवारत चिकित्सक अपने भविष्य को लेकर चिंताग्रस्त 
 
Serving doctors get the same benefits as in the Senior Resident and Assistant Professor posts.

जयपुर/कोटा। सेवारत चिकित्सको को पूर्व की भांति सीनियर रेसिडेंटशिप व सहायक आचार्य पदों पर समान लाभ मिले, इसी मांग को लेकर सेवारत चिकित्सक संघ (serving physicians association) ने चिकित्सा सचिव को पत्र लिखकर अपने भविष्य को लेकर चिंता जताते हुए निराकरण की मांग की।

अखिल राजस्थान सेवारत चिकित्सक के प्रदेश अध्यक्ष डॉ लक्ष्मण सिंह ओला एवं प्रदेश महासचिव डॉ दुर्गा शंकर सैनी ने बताया कि संघ ने चिकित्सा शिक्षा व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सचिव को पत्र भेजकर सेवारत चिकित्सको को पूर्व की भांति सीनियर रेसिडेंटशिप व सहायक आचार्य के पदों पर समान रूप से लाभ की मांग की गई है, नॉन सर्विस चिकित्सको को लाभ मिले और सेवारत चिकित्सको को लाभ से वंचित किया जाएगा यह सेवारत चिकित्सको के अधिकारों का हनन है।

सेवारत चिकित्सक स्वत्रंत है।  इस आदेश में बदलाव नही होने पर हमें मज़बूरवंश आंदोलनात्मकदम उठाने के लिये सोचना पड़ेगा। सेवारत चिकित्सक निरंतर अपनी उत्कृष्ठ सेवा दे रहा है और भविष्य में उच्च स्तर के करियर को सोचे तो चिकित्सा शिक्षा विभाग का आदेश उसे उच्च कॅरियर की बढ़ने से रोकने के प्रयास करे तो सेवारत चिकित्सको को मजबूरन आगे की रणनीति बनानी पड़ेगी।