बाड़मेर में पिता ने 4 बेटियों को जहर देकर मौत के घाट उतारा, फिर घर के बाहर पानी के टांके में फेंका, जहर पीकर खुद भी कूदा

 
shiv thana susaid

बाड़मेर। जिले के शिव थाना क्षेत्र में पोशाल नवपुरा गांव में एक पिता ने अपनी चार बेटियों को कीटनाशक पिलाकर पानी के टांके (हौद) में डुबोकर मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद खुद भी जहर खाकर टांके में कूद गया। यह देख वहां मौजूद लोगों ने पिता को बाहर निकाल लिया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया है।

पोशाल नवपुरा गांव में शुक्रवार की रात पुरखाराम पुत्र ईश्वराराम ने अपनी चार बेटियों को पानी में कीटनाशक मिलाकर पिलाकर ढाणी के पास बने हौद में डाल दिया। इसके बाद देर रात खुद भी टांके में कूद गया। आस-पास के लोगों ने उसे देख लिया। पानी कम होने की वजह से वह बच गया, जबकि चारों बेटियों की मौत हो गई। घटना की सूचना लोगो ने पुलिस को दी, जिस पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर चारों मासूम बच्चियाके को बाहर निकाला और पुरखाराम को शिव अस्पताल पहुंचाया। बच्चियों को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुरखाराम को जिला अस्पताल रेफर किया है।

शिव थानाधिकारी ओम प्रकाश ने बताया कि जिया (7), वंसुधरा (5), हिना (3), लक्ष्मी उर्फ लाछी (18 महीने) की मौत हो गई है। प्रारंभिक जांच में सामने आया कि पिता पुरखाराम की पत्नी की कुछ माह पहले कोरोना से मौत हो गई थी। इसके बाद पुरखाराम दूसरी शादी करना चाहता था। पुरखाराम का ससुराल एक-दो किलोमीटर दूर ही है। शुक्रवार की शाम अपनी बच्चियों को ननिहाल से लेकर आया ही था। उसने बच्चियों को दवाई पिलाने के नाम पर कीटनाशक पिलाई थी। फिर आत्महत्या की कोशिश की। पुरखाराम की हालत गंभीर बनी हुई है।