गहलोत-डोटासरा आज कोटा-बूंदी-टोंक में प्रशासन गांव के संग शिविरों का करेगें अवलोकन

 -18 नवम्बर को जाएंगे धौलपुर-करौली-भरतपुर-दौसा
 
गहलोत-डोटासरा आज कोटा-बूंदी-टोंक में प्रशासन गांव के संग शिविरों का करेगें अवलोकन

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा आज प्रशासन गांवों के संग अभियान के शिविरों का जायजा लेने कोटा, बूंदी और टोंक जिलों के दौरे पर रहेंगे। इसके अगले दिन 18 नवम्बर को धौलपुर, करौली, भरतपुर और दौसा जिलों का दौरा तय है। मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष इन दो दिनों में 7 जिलों के गांवों में प्रशासन की ओर से अभियान के तहत ग्रामीणों के लिए की गई व्यवस्थाओं को देखेंगे। गांव के लोगों और पंच-सरपंच, प्रधान, क्षेत्रीय विधायक से बड़ी समस्याओं को जानेंगे। उनके समाधान के लिए जिला कलेक्टर, संभागीय आयुक्त और अलग-अलग संबंधित विभागों के अधिकारियों से अब तक हुई कार्यवाही और प्रगती की जानकारी ली जाएगी।

आज कोटा-बूंदी-टोंक का दौरा 
गहलोत और डोटासरा आज सुबह 10 बजे जयपुर से हेलीकॉप्टर के जरिए कोटा के लिए रवाना होंगे। सुबह 11 बजे कोटा के पीपल्दा के जोरावरपुरा गांव में प्रशासन गांवों के संग अभियान के शिविर का अवलोकन करेंगे और ग्रामीणों की सुनवाई करेंगे। दोपहर 12.30 बजे बूंदी जिले के हिण्डौली में ठीकरदा गांव पहुंचकर वहां के शिविर का जायजा लेंगे। दोपहर 2 बजे टोंक के उनियारा में बोसरिया गांव के शिविर में पहुंचेगें। दोपहर 3.30 बजे इस दौरे के बाद जयपुर पहुंचे का कार्यक्रम है।

कल धौलपुर-करौली-भरतपुर-दौसा जायेगें
18 नवम्बर को मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दोनों सुबह 10 बजे हेलीकॉप्टर से रवाना होकर सुबह 11 बजे धौलपुर पहुंचेंगे। धौलपुर के बाड़ी में सिंगोराई गांव में प्रशासन गांव के संग अभियान के शिविर का जायजा लेकर वहां जनसुनवाई करेंगे। दोपहर 12.30 बजे करौली जिले के कोंडर में लगे शिविर में जाएंगे। दोपहर 2 बजे भरतपुर के वैर में ललिता मूड़िया के शिविर और दोपहर 3.30 बजे दौसा के बोरोदा में लगे शिविर का जायजा लेंगे। बोरोदा से शाम 4.30 बजे रवाना होकर शाम 5 बजे दोनों नेताओं का जयपुर वापसी का कार्यक्रम है।