दौसा : कृषि उपज मंडी समितियों में कृषक उपहार योजना लागू, किसानो को मिलेगें लाखों के उपहार

 
दौसा: कृषि उपज मंडी समितियों में कृषक उपहार योजना लागू, किसानो को मिलेगें लाखों के उपहार

दौसा,(राकेश चौधरी/अंकित त्रिवेदी)। लालसोट कृषि उपज मंडी समिति सचिव ममता गुप्ता ने बताया कि राज्य सरकार कृषि विपणन निदेशालय जयपुर के तहत राज्य के समस्त मंडी समितियों के माध्यम से राज्य के कृषकों के लिए कृषक उपहार योजना 2021-22 लागू की है। जिसके तहत किसानों को मंडी समितियों में संचालित ई-नाम परियोजना के तहत मंडियों में अपनी कृषि उपज विक्रय करने एवं ई-भुगतान प्राप्त करने पर निःशुल्क ई-उपहार कूपन मंडी समितियों के माध्यम से जारी किए जाएंगे। योजना के अंतर्गत पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे।

 मंडी सचिव ममता गुप्ता ने बताया कि मंडी स्तर पर प्रत्येक 6 माह में ई-गेटपास की विक्रय पर्चियों एवं ई- भुगतान की विक्रय पर्चियों पर प्रथम पुरस्कार 25 हजार रुपए, द्वितीय पुरस्कार 15 हजार रुपए एवं तृतीय पुरस्कार 10 हजार रुपए के पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। इसी तरह खंड स्तर पर प्रत्येक 6 माह में प्रथम पुरस्कार 50 हजार रुपए, द्वितीय पुरस्कार 30 हजार रुपए एवं तृतीय पुरस्कार 20 हजार रुपए तथा राज्य स्तर पर वर्ष में एक बार प्रथम पुरस्कार ढाई लाख रुपये, द्वितीय पुरस्कार दो लाख रुपये एवं तृतीय पुरस्कार एक लाख रुपये का पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। 

मंडी सचिव ममता गुप्ता ने बताया कि उक्त योजना अवधि 1 जनवरी 22 से दिसंबर 2022 तक है। योजना का लाभ लेने के लिए किसान मंडियों में ई-नाम पोर्टल पर कृषि उपज के गेट पास विक्रय पर्ची जिसका मूल्य 10 हजार रुपए या उससे अधिक होने पर विक्रय पर्ची/ई- भुगतान पर ई-कूपन मंडी समिति के माध्यम से जारी किए जाएंगे। उन्होंने किसान भाइयों से आग्रह किया है कि वे अपनी कृषि उपज मंडी समिति में बेचान के लिए लाकर ई-नाम पोर्टल पर अपनी उपज की अधिकतम कीमत पानी तथा राज्य सरकार की किसानों के हित में कृषक उपहार योजना 2020-21 का लाभ उठाएं।