एक दिन पहले हूई थी पास, फिर लिखा इमोशनल सुसाइड नोट, आत्महत्या का कारण जान उड़ जायेंगे होश

 
suicide
राजस्थान के चुरू में एक दिन पहले ही फर्स्ट डिवीजन पास होने वाली छात्रा ने आत्महत्या कर ली। वह बीएससी नर्सिंग थर्ड ईयर की स्टूडेंट थी। धर्मस्तूप के पास किराए का कमरा लेकर रहती थी। प्रियंका कटेवा की उम्र महज 22 साल थी। उसने ऐसा कदम क्यों उठाया इसका खुलासा नहीं हो पाया है।

पुलिस को मिले सुसाइड नोट में उसने लिखा है- मैं दुनिया से परेशान हो चुकी हूं, ये दुनिया बहुत स्वार्थी है, आप कितने भी अच्छे हो लेकिन लोग नहीं समझते। बचपन में जिस तरह मेरी गलतियों को माफ किया, उसी तरह इसे भी गलती समझकर माफ कर देना, मां-बाप जैसा प्यार दुनिया मे कोई नहीं कर सकता, आई लव यू मम्मी-पापा एंड ऑल माय फैमिली, कुछ तो लागे कहेंगे इनका काम है कहना।

झुंझुनूं की रहने वाली प्रियंका कटेवा इंद्रा मॉर्केट के एक मकान में किराए पर रहती थी। रविवार सुबह काफी देर तक वह कमरे से बाहर नहीं आई। मकान मालिक ने जब दरवाजा खटखटाया तो कोई जवाब भी नहीं मिला। खिड़की से झांककर अंदर देखा तो उसे फंदे से लटकता देख होश उड़ गए। सूचना पर सीओ सिटी ममता सारस्वत, कोतवाल सतीश कुमार यादव मौके पर पहुंच गए। शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

जानकारी के मुताबिक शनिवार को बीएससी नर्सिंग सेकेंड ईयर का रिजल्ट आया था। शाम को प्रियंका ने फोन पर परिजनों से बातचीत भी की थी। इसके बाद क्या हुआ, किसी को इसके बारे में पता नहीं। उसने सुसाइड क्यों किया, पुलिस इसकी जांच कर रही है। मकान मालिक ने बताया कि शनिवार रात को परिवार की एक सदस्य की तबीयत खराब हो गई थी तो प्रियंका ने ही उसे ड्रिप चढ़ाई थी, उस दौरान वह बिल्कुल नॉर्मल थी।