Police कस्टडी में आरोपी की मौत मामले में SHO और दो कांस्टेबल निलंबित, देर रात मौके पर पहुंचे बीकानेर आईजी

 
SHO and two constables suspended in case of death of accused in police custody, Bikaner IG reached the spot late at night

चूरू। जिले के भालेरी पुलिस कस्टडी में एक आरोपी की मौत (One accused dies in Bhaleri police custody) हो गई। आरोपी चलती बस से कूद गया था। इस मामले ने शनिवार को तूल पकड़ लिया। शनिवार की रात को मृतक के परिजन और ग्रामीण मोर्चरी के पास धरने पर बैठ गए। मामले की गंभीरता को देखते हुए बीकानेर रेंज आईजी ओम प्रकाश और एसपी दिगंत आनंद (Bikaner Range IG Om Prakash and SP Digant Anand) भी शनिवार रात्रि तारानगर पहुंचे।

परिजनों की मांग और मामले की गंभीरता को देखते हुए भालेरी थाना अधिकारी केदारमल मीणा सहित पुलिस कांस्टेबल सत्यवीर और भैरव सिंह को सस्पेंड (Suspended police constables Satyaveer and Bhairav ​​Singh including station officer Kedarmal Meena) कर दिया गया। वहीं देर रात मामले में मृतक के आश्रितों को उचित मुआवजा देने, मामले की न्यायिक जांच और मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम की मांग पर सहमति बन गई। इधर तारानगर पुलिस थाना, तारानगर अस्पताल, नया बस स्टैंड, मोर्चरी आदि जगह पुलिस जाब्ते सहित बड़ी संख्या में रात को ग्रामीण मौजूद रहे। मामले में रविवार को मृतक का पोस्टमार्टम चूरू में होगा। 

बता दें, कि भालेरी पुलिस ने आरोपी प्रमोद निवासी ढांढण को शुक्रवार रात गिरफ्तार किया था। आरोपी को शनिवार को कोर्ट में पेश करने के लिए तारानगर ला रहे थे कि बीच में गांव बुचावास के पास प्रमोद बस से कूद गया। जिसके बाद उसे तारानगर सीएचसी लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक प्रमोद के ससुराल पक्ष के गांव बुचावास के लोगों ने दहेज प्रताड़ना का भालेरी थाने में मामला दर्ज करवा रखा था।