ओवरलोड ट्रेलर घाटा से उतरते पलटकर खाई में गिरा, 4 जनों की मौत, 6 घायल

 
ओवरलोड ट्रेलर घाटा से उतरते पलटकर खाई में गिरा

चित्तौड़गढ़। जिले में गेहूं से भरा ओवरलोड ट्रेलर पलटकर खाई में गिरा। इस हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई और 6 जने घायल हो गए। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने क्रेन से बोरों को हटवाकर शवों को बाहर निकलवाया। पुलिस के अनुसार ट्रेलर में 40 टन गेहूं भरा था। 4 मजदूर इन बोरों के नीचे दब गए। घाटा क्षेत्र की ढलान उतरते हुए ट्रेलर अनियंत्रित होकर पलट गया। ड्राइवर ने बताया कि ट्रेलर का ब्रेक फेल होने के कारण हादसा हुआ है। घटना रविवार शाम 5 बजे की है।

पुलिस उप अधीक्षक शाहना खानम ने बताया कि ट्रेलर में बैठे मजदूर संजय पुत्र जोगेंद्र, रामानंद (42) पुत्र शौकीन निवासी बिहार, सत्यनारायण (26) पुत्र देवकरण गुर्जर निवासी भीलवाड़ा और चित्तौड़ के बस्सी के रहने वाले इकबाल (45) पुत्र वजीर मोहम्मद की मौत हो गई। मृतकों के परिजनों को सूचना दी गई हैं। उनके आने पर पोस्टमॉर्टम कराया जाएगा।

हादसे में बिहार निवासी रोशन (18) पुत्र रामचंद्र, गोलू (20) पुत्र रामजउवा, मंगा सदा (29) पुत्र सुखदेव सदा, पोशन सदा (30) पुत्र रामकिशन सदा, दिलखुश (17) पुत्र राम चंद्र और चालक दुर्गा (25) पुत्र शंकर लाल गुर्जर निवासी भीलवाड़ा घायल हो गए। घायलों का अस्पताल में इलाज जारी हैं।

ट्रेलर में भरा 40 टन गेहूं बस्सी सेठ नंदकिशोर के पास लेकर जाना था। पालघाटे गोदाम से 650 बोरों में गेहूं भरकर ट्रेलर में रखा गया। मजदूरों और चालकों को रास्ता पता नहीं होने पर गोदाम मालिक इकबाल उनके साथ गया। बस्सी में गेहूं का तौल होने के बाद गुजरात भेजा जाना था। रास्ते में मायरा घाटा से नीचे उतरते समय ट्रेलर अनियंत्रित होकर पलट गया। ट्रेलर सीधे खाई में जा गिरा। मजदूर और गोदाम मालिक ट्रेलर के नीचे दब गए। हादसे की सूचना मार्ग से गुजर रहे लोगों ने पुलिस को दी।

पुलिस ने क्रेन की मदद से ट्रेलर सीधा करवाया। इसके बाद राहगीरों के सहयोग से एक-एक करके मजदूरों को बाहर निकाला गया। तब तक गोदाम मालिक इकबाल और मजदूरों सहित 4 ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। बाकी 5 मजदूरों को गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचाया गया।

डीएसपी ने बताया कि घायल ट्रेलर ड्राइवर दुर्गा गुर्जर ने पर्चा बयान में ब्रेक फेल होने से वाहन अनियंत्रित होना बताया। फिलहाल किस वजह से हादसा हुआ है, पुलिस इसकी जांच में जुटी है।