मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने ग्राम पंचायत नगर में प्रशासन गांवों के संग शिविर का किया औचक निरीक्षण

 
आमजन को करें लाभान्वित- मुख्य सचिव निरंजन आर्य

टोंक/मालपुरा,(शिवराज मीना/मनोज टाक)। राज्य के मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने गुरुवार को जिले की मालपुरा तहसील के ग्राम पंचायत नगर में प्रशासन गांवों के संग अभियान का औचक निरीक्षण कर जिला कलेक्टर चिन्मयी गोपाल से अभियान के प्रगति की जानकारी ली। 

इस दौरान मुख्य सचिव आर्य ने कहा कि प्रशासन गांवों के संग अभियान राज्य सरकार का महत्वाकांक्षी अभियान है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार सम्पूर्ण राज्य में 2 अक्टूबर से प्रशासन गांवों के संग अभियान शुरू किया गया है। जिसके अन्तर्गत ग्राम पंचायत स्तर पर शिविरों का आयोजन कर आमजन के लंबित प्रकरणों का निस्तारण किया जा रहा है। साथ ही अभियान में कई विभागों से जुड़े कार्य भी मौके पर ही हो रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि अभियान का क्रियान्वयन इस प्रकार से करें जिससे अधिक से अधिक लोगों को इनका लाभ मिल सके। उन्होंने इन शिविरों का व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिये जिससे प्रत्येक विभाग द्वारा किए जाने वाले कार्यों की जानकारी आमजन को मिल सके। शिविर में सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहें और आमजन को एक ही स्थान पर अधिकतम सुविधाएं प्रदान करें। मुख्य सचिव आर्य ने कहा कि प्रत्येक पात्र व्यक्ति को पारदर्शिता के साथ राज्य सरकार की फ्लेगशिप योजनाओं का लाभ मिले इसके लिए अधिकारी-कार्मिक समन्वय की भावना से कार्य करें।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना राज्य सरकार की अत्यंत महत्वपूर्ण योजना है। इसके माध्यम से पहली बार प्रदेश के प्रत्येक परिवार को पांच लाख रूपये तक की कैशलेश बीमा सुविधा उपलबध करवाई गई है। कोई भी पात्र व्यक्ति इसके पंजीयन से वंचित नहीं रहें। मुख्य सचिव आर्य ने बताया कि अभियान में सभी विभाग जैसे राजस्व विभाग के कार्य खातेदारी देना,वर्षाे से अतिक्रमित भूमि से अतिक्रमण हटाना, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा विधवाओं को पेंशन प्रदान करना, पालनहार जैसे कार्यों का निष्पादन मौके पर ही किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि राजस्व विभाग के ऐसे कई प्रकरण जो कई दशकों से लंबित चले आ रहे हैं उनका भी समाधान हो पा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का मुख्य उद्देश्य यही है कि अभियान का पूरा लाभ आमजन को मिल सके जिसके लिए सभी विभागों के कर्मचारी भी दिन-रात अपनी सेवा ही इन अभियानों में दे रहे हैं। समस्याओं से कराया अवगत ग्रामीणों ने शिविर में समस्याओं को बताते हुए कहा कि कोरोना काल में जयपुर,अजमेर व टोंक से सरकारी रोडवेज बस सेवा बन्द हो गई थी, जिसके बाद लोगों को जिला मुख्यालय सहित शहर जाने में परेशानी उठानी पड़ रही है। इसी के साथ पशु चिकित्सक का पद रिक्त होने के बारे में अवगत करवाया।

इस पर मुख्य सचिव ने मौके पर ही संबन्धित विभाग के अधिकारियों से दूरभाष पर बात करके तत्काल टोंक से नगर गांव फिर से बस सेवा शुरू करने के साथ पशु चिकित्सक लगाने के बारे में कहा। उन्होंने षिक्षा विभाग के निदेषक को दूरभाष पर ग्राम पंचायत नगर में उच्च माध्यमिक विद्यालय में इतिहास एवं राजनीतिक शास्त्र के खाली चल रहे षिक्षकों के पदोें को भरने के निर्देष दिए। उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को आमजन के फोन उठाने के निर्देश दिए। शिविर में पंचायत प्रशासन द्वारा करीब 300 आवासीय पट्टों का वितरण किया गया है। 
सरपंच का किया सम्मान 
आंटोली पंचायत मुख्यालय पर गत दिनों प्रशासन गांवों के संग अभियान में पंचायत प्रशासन द्वारा 800 पट्टे वितरण करने पर मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने सरपंच उमा देवी साहू, ग्राम विकास अधिकारी कैलाश चन्द बैरवा व पटवारी सुरेंद्र कुमार को शिविर में सम्मानित किया। उन्होने बताया कि राजस्थान सरकार द्वारा चलाए गए प्रशासन गांवों के संग अभियान में राजस्थान की आंटोली प्रथम पंचायत है। जिसमें एक दिन में इतने अधिक पट्टे दिए गए हैं। इस दौरान अतिरिक्त जिला कलेक्टर मुरारी लाल शर्मा, एडीएम बीसलपुर प्रभाती लाल जाट, एसडीएम मालपुरा, प्रधान मालपुरा सकराम चोपड़ा एवं सरपंच किस्मत कंवर सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।  
डिग्गी कल्याण जी के किए दर्शन
राज्य के मुख्य सचिव निरंजन आर्य एवं जिला कलेक्टर चिन्मयी गोपाल ने किए डिग्गी कल्याण जी के दर्शन किए एवं प्रदेश एवं जिले की सुख समृद्धि एवं खुशहाली कि कामना की।