बून्दी : स्वायत शासन निदेशक ने जांची प्रशासन शहरो के संग अभियान की प्रगति, पटटे नही बनाने की मिली शिकायतों पर जतायी नाराजगी

- अभियान की समीक्षा कार्यशाला संपन्न, जिले कि सभी निकायों के प्रतिनिधी हुए शामिल
 
स्वायत शासन निदेशक ने जांची प्रशासन शहरो के संग अभियान की प्रगति, पटटे नही बनाने की मिली शिकायतों पर जतायी नाराजगी

बून्दी,(कलीमुद्दीन अंसारी)। प्रशासन शहरो के संग अभियान 2021 के प्रथम चरण की समीक्षा कार्यशाला शुक्रवार को बून्दी मे आयोजित की गई। कार्यशाला मे जिले की पांच नगरपालिकाओ सहित नगर परिषद बून्दी के अधिशासी अधिकारी, आयुक्त तथा अध्यक्ष, सभापति उपसभापति सहित अभियान में महत्वपूर्ण कार्य करने वाले कर्मचारियो ने भाग लिया।

छत्रपुरा रोड स्थित एक मेरिज गार्डन मे आयोजित कार्यशाला की शुरूआत स्वायत शासन विभाग के निदेशक दीपक नंदी ने दीप प्रज्वलित करके किया। कार्यशाला मे प्रशासन शहरो के संग अभियान के दौरान क्या क्या समस्याए आई तथा जो समस्याऐ सामने आई उनका किस तरह समाधान किया जा सकता है इस पर चर्चा हुई। इसके साथ ही पटटे बनाने के कार्य मे गति लाने के निर्देश निदेशक ने दिए। इस दौरान सभी नगर पालिकाओ ने अपने अपने कार्य के प्रजेन्टेशन भी दिए। कार्यशाला मे जिला कलक्टर रेणु जयपाल ले भी शिरकत की। वही कार्यशाला मे सम्भागीय पर्यवेक्षक प्रशासन शहरो के संग अभियान आर डी मीणा, स्वायत शासन विभाग की कोटा स्थित उपनिदेशक दीप्ति रामचन्द्रन मीणा, वरिष्ठ नगर नियोजक दण्डवते, सहित बून्दी नैनवां लाखेरी, कापरेन, इन्द्रगढ, केपाटन के पालिकाध्यक्ष व अधिशासी अधिकारी शामिल थे। दो चरणो मे आयोजित कार्यशाला का समापन सांयकाल 5 बजे हुआ। 

यह बताया सभापति मधु नुवाल ने
नगर परिषद बून्दी की सभापति मधु नुवाल ने बताया कि प्रशासन शहरो के संग अभियान के तहत पटटे बनाने के कार्य मे सरलीकरण किया गया है। अब नल बिजली के बिल व वोटर आईडी के आधार पर पटटे बनाये जा सकेगे। इसके अलावा पटटे बनाने के लिए ऑनलाईन आवेदन करना भी जरूरी नही है। ऑफ लाईन आवेदन करने पर पटटे बनाये जा सकेेेगे।

कच्ची बस्तियो के पटटे भी बनेगे
प्रशासन शहरो के संग अभियान की कार्यशाला के दौरान बून्दी शहर मे स्थित 12 कच्ची बस्तियो के पटटे बनाने पर भी सहमति बनी। इस सम्बन्ध मे जल्द ही जयपुर से आदेश निकलने की जानकारी दी। बून्दी शहर मे कच्ची बस्तियो मे गुरूनानक कॉलोनी, उंदालिया की डूूंगरी, इन्द्रा कॉलोनी, अम्बेडर कॉलोनी, शामिल है। इसके अलावा नगर पालिका नगर परिषद क्षेत्र मे स्थित चारागाह भूमि को भी आबादी क्षेत्र मे मानते हुए इसके पटटे बनाने का भी रास्ता साफ हुआ।