बूंदी के विकास में मील का पत्थर बनेगा इन्वेस्टर सम्मिट- जिला कलेक्टर रेणु जयपाल

 - 12 जनवरी को प्रस्तावित है आयोजन
 
बूंदी के विकास में मील का पत्थर बनेगा इन्वेस्टर सम्मिट- जिला कलेक्टर

बून्दी। जिला स्तरीय इन्वेस्टर समिट (District Level Investor Summit) का आयोजन हरियाली रिसोर्ट में 12 जनवरी को किया जाएगा। इस संबंध में शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में जिला कलेक्टर रेणु जयपाल (District Collector Renu Jaipal) ने कहा कि इन्वेस्टर सम्मिट बूंदी के विकास की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने बताया कि जिला स्तरीय इन्वेस्टर समिट में एक शिलान्यास,एक उद्घाटन प्रस्तावित है। इस आयोजन के लिए 16एमओयू तथा 9 एलओआई प्रस्तावित हैं। इन के माध्यम से जिले में लगभग 686.62 करोड का निवेश होगा व 2270 को रोजगार प्राप्त हो सकेगा। जिला कलेक्टर ने कहा कि बूंदी जिले में यह निवेश होना यहां विकास के नए रास्ते खोलेगा। विकास होगा तो पर्यटन बढ़ेगा और स्थानीय लोगों के रोजगार मिलेगा। इस तरह यह इन्वेस्टर सम्मिट बूंदी के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि प्रयास किए जा रहे हैं कि और भी निवेशक आगे आएं और राज्य सरकार द्वारा दी जा रही रियायतों व छूट का लाभ उठाकर उद्यम स्थापना करें।

 जिला उद्योग एवं वाणिज्य केन्द्र के महाप्रबन्धक चन्द्रमोहन गुप्ता ने बताया कि जिला स्तर पर पहली बार इस तरह निवेशकों के लिए बड़ा मंच मिल रहा है। जिला स्तरीय समिट में महत्वपूर्ण उद्योग संघ एवं उद्योगपतियों से आयोजन में भाग लेने एवं निवेश प्रोत्साहन के लिए निरन्तर सम्पर्क किया जा रहा है। गूगल शीट में 25 इकाईयों का डाटा अपलोड किया गया है जिसमें राजस्थान निवेश प्रोत्साहन (आरआईपीएस) एवं मुख्यमंत्री लघु प्रोत्साहन योजना के इकाईयों के डाटा अपलोड किए हैं। जिला स्तरीय इन्वेस्टर समिट हेतु विभिन्न स्तरों पर तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। कोरोना की तीसरी लहर के चलते राज्य सरकार की गाइडलाइन की पालना करते हुए कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।