इन्वेस्ट सम्मिटः 2734.21 करोड़ का निवेश,15 एमओयू,17 एलओआई संभाग में सबसे ज्यादा निवेशक प्रस्ताव बून्दी में

 निवेशकों को निरन्तर सम्बल देगी सरकार- अशोक चांदना
 
इन्वेस्ट सम्मिटः 2734.21 करोड़ का निवेश,15 एमओयू, 17 एलओआई संभाग में सबसे ज्यादा निवेशक प्रस्ताव बून्दी में

बून्दी। राजस्थान इन्वेस्ट सम्मिट के अन्तर्गत बूंदी इन्वेस्टर सम्मिट बुधवार को वर्चुअल तरीके से कलेक्टेªट सभागार में आयोजित किया गया। इसमें 2734.21 करोड़ के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए जो बूंदी जिले के लिए ऐतिहासिक उपलब्धि है। जिला कलेक्टर रेणु जयपाल के निर्देशन में उद्योग विभाग, रीको एवं अन्य संबंधित विभागों के अथक प्रयासों और जिले के उद्यमियों के उत्साह के परिणाम स्वरुप जिले को बड़ा निवेश मिला है जो कोटा संभाग एवं बूंदी के आसपास के जिलों में सर्वाधिक है। इन्वेस्ट सम्मिट में कृषि, शिक्षा, पर्यटन, मनोरंजन, माईनिंग इत्यादि से जुडे 15 एमओयू, 17 एलओआई, दो उद्घाटन हुए।

निवेशकों को निरन्तर सम्बल देगी सरकार- अशोक चांदना

समारोह के मुख्य अतिथि खेल,युवा मामले एवं सूचना एवं जनसंपर्क राज्य मंत्री अशोक चांदना ने जिले में ढाई हजार करोड़ से अधिक के निवेश प्रस्ताव के प्राप्त होने पर बूंदी की टीम को बहुत बधाई दी है। उन्होंने कहा कि संभाग के सबसे छोटे जिले में सबसे बड़ा निवेश होना बड़े गौरव की बात है। इससे क्षेत्र के युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे। उन्होंने कहा कि निवेशक छोटे बालक की तरह होते हैं जिन्हें प्रशासन, बैंकिंग और लोकल सपोर्ट सिस्टम मिल जाए तो बड़ा संबल मिलता है। उन्होंने विश्वास दिलाया कि निवेशकों को निरंतर संबल मिलेगा।

एलओआई संभाग में सबसे ज्यादा निवेशक प्रस्ताव बून्दी में

इन्वेस्टर सम्मिट में वीडियो सन्देश के माध्यम से उद्योग मंत्री श्रीमती शकुंतला रावत ने कहा कि राज्य सरकार की जिलों में निवेश सम्मेलन रखने की इस पहल के उत्साहजनक परिणाम आ रहे हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की प्रदेश के आर्थिक और सामाजिक विकास के लिए प्रतिबद्धता की दिशा में यह कदम उठाया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा औद्योगिक विकास की दिशा में वन स्टॉप शॉप की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।

प्रवासी राजस्थानी फाउण्डेशन एवं उद्योग आयुक्त धीरज श्रीवास्तव ने निवेशकों का अभिनन्दन किया और उनकी उद्यमिता की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार एवं राजस्थानी फाउण्डेशन उद्यमियों के हमेशा साथ खडा है।

जिला प्रभारी सचिव श्रीमती मुग्धा सिन्हा ने संबोधित करते हुए कहा कि यह आयोजन जिले के विकास में मील का पत्थर बनेगा। बूंदी में विकास की प्रचुर संभावनाएं है जिनमें निवेश के लिए उद्यमियों को विचार करना चाहिए। साथ ही तकनीकी और डिजिटल क्षेत्र में भी अपार संभावनाएं खुल गई हैं।

 हम आप साथ चलें तो ऊंचाई छुएगी बूंदी - जिला कलक्टर
जिला कलेक्टर रेणु जयपाल ने इन्वेस्टर सम्मिट को संबोधित करते हुए निवेश करने वाले उद्यमियों का साधुवाद दिया और कहा कि यह आयोजन जिले के विकास में ऐतिहासिक साबित होगा। उन्होंने कहा कि हम और आप यदि मिलकर चलें तो जिला नई ऊंचाइयां छू लेगा। युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे। साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में विकास और समृद्धि के द्वार खुलेंगे उन्होंने उद्यमियों का आह्वान किया कि जिले में पर्यटन और प्रस्तावित टाइगर रिजर्व के कारण पर्यटन और होटल उद्योग में व्यापक संभावनाएं हैं, इसके लिए भी उद्यमी विचार करें। साथ ही अपने इस खूबसूरत जिले को हर क्षेत्र में प्रमोट करें। जिला कलक्टर ने निवेशकों के साथ एमओयू एवं एलआईओ किए एवं उन्हें शुभकामनाएं दी। उद्योग विभाग के संयुक्त निदेषक आरके सेठिया ने भी संबोधित करते हुए निवेशकों का उत्साहवर्धन किया और टीम बून्दी को बधाई दी।

लघु उद्योग संघ के अध्यक्ष एसएन माहेश्वरी ने आयोजन को सराहा और कहा कि सरकार की इस पहल से जिले का औद्योगिक विकास नई ऊंचाइयां छू लेगा। श्रीचावल उद्योग संघ के अध्यक्ष नीरज गोयल ने कहा कि जिला कलेक्टर के समर्पित प्रयासों एवं संबंधित विभागों की टीम ने पूरे मन के साथ आयोजन को अंजाम दिया है जिसके अच्छे परिणाम आए हैं। जिले में इतना बड़ा निवेश आना निश्चय ही सुखद संकेत है।

जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक चन्द्र मोहन गुप्ता ने इन्वेस्ट सम्मिट के उद्देश्य पर प्रकाश डाला और बताया कि किस तरह बून्दी के निवेशकों ने लगातार उत्साह दिखाते हुए ऐतिहासिक भागीदारी की है। अन्त में रीको के क्षेत्रीय प्रबन्धक टीसी भट्ट ने आगन्तुकों का धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन भूपेन्द्र शर्मा ने किया।

समारोह के आरम्भ में इन्वेस्ट सम्मिट के ब्रोशर का विमोचन किया गया। राजस्थान के औद्योगिक विकास एवं संभावनाओं एवं बून्दी में छिपी संभावनाओं को उभारने वाली डॉक्यूमेन्ट्री का प्रदर्शन भी किया गया।

ये रहे मौजूद
समारोह में योगिता शर्मा मातेश्वरी टेªडिग कं. रमनदीप शर्मा एमजीआर ओवरसीज़, ओमप्रकाश शर्मा होटल गणगौर एण्ड रिसोर्ट, दिलदार हुसैन बॉम्बे रॉयल, अशोक कुमार महेश कुमार बालाजी फूड एग्रोटेक, हर्षिल जैन आरएलएसएम एन्टप्राईजेज, राघवेन्द्र सिंह हनुमान सिंह भाकल हीरामन रिसोर्ट, नवल माहेश्वरी सरागो एग्रो प्रा.लि, सुयोग प्रा.लि.,संजय स्टोन अलाईन्स, विनय यादव अडानी विल्मार, नितिन जैन सावंरिया स्टोन क्रेशर,  भानु न्याति वत्सल एग्रो, सत्यनारायण जाजू, भवंरलाल, सत्येश शर्मा, हिमांशु जाजू, कजोड़ मीणा, राजेन्द्र सिंह, रितेश गुप्ता, रजत तापड़िया, हरिमोहन डगांइच, देवेन्द्र जैन, सत्यनारायण, सुरेश दुबे, आशिष, रविन्द्र सिंह, भवंर झवंर, अर्पित जाजू एवं अन्य उद्यमी तथा निवेशक मौजूद रहे।